इंदौर: मध्यप्रदेश के इंदौर जिले में जनजातीय समुदाय की छह वर्षीय बच्ची के साथ नाबालिग लड़कों द्वारा सामूहिक दुष्कर्म का मामला सामने आया है. सप्ताह भर पुराने मामले में पुलिस ने पीड़ित बच्ची के चचेरे भाई समेत तीन स्कूली छात्रों को हिरासत में लिया है.

देहरादून के प्राइवेट स्कूल परिसर में नाबालिग छात्रा से गैंगरेप, नौ लोग गिरफ्तार

अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक (एएसपी) नागेंद्र सिंह ने गुरुवार को बताया कि सिमरोल थाना क्षेत्र के दतोदा गांव में तीनों लड़कों ने 21 सितंबर को बच्ची के साथ उसके घर के पास कथित तौर पर दुष्कर्म किया. फिर उसे धमकी दी कि अगर उसने किसी को उनकी इस करतूत के बारे में कुछ बताया, तो उसके परिवार को गंभीर परिणाम भुगतने होंगे. एएसपी ने बताया कि इस धमकी से डरी-सहमी बच्ची कुछ दिन खामोश रही. लेकिन जब उसका दर्द बढ़ा, तो उसने अपनी बड़ी बहन को बुधवार को आपबीती सुनायी.

नाबालिग छात्रा से दुष्कर्म को लेकर सीबीएसई ने रद्द की जीआरडी वर्ल्ड स्कूल की मान्यता

तीनों आरोपी छात्र हिरासत में
सिंह ने बताया कि पीड़ित बच्ची के परिजनों की रिपोर्ट पर तीनों लड़कों के खिलाफ सम्बद्ध धाराओं में मामला दर्ज कर उन्हें हिरासत में लिया गया है. आरोपियों में शामिल एक लड़के की उम्र 12 वर्ष है, जबकि दो अन्य 15–15 साल के हैं. उन्होंने बताया कि तीनों आरोपी भी जनजातीय समुदाय से ताल्लुक रखते हैं. इनमें से एक लड़का पीड़ित बच्ची का चचेरा भाई है.सिंह ने बताया कि बच्ची को इंदौर के एक अस्पताल में भर्ती कराया गया है. उसकी हालत खतरे से बाहर है. मामले में विस्तृत जांच जारी है.