MP News In Hindi: मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान (Shivraj Singh Chouhan) द्वारा लड़कियों के विवाह की उम्र 21 साल किए जाने की पैरवी का विरोध करते हुए कांग्रेस के वरिष्ठ नेता और पूर्व मंत्री सज्जन सिंह वर्मा (Sajjan Singh Verma) ने विवादित बयान दिया है. उन्होंने कहा है कि, ‘जब 15 साल की लड़कियां बच्चे पैदा करने के लायक हो जाती हैं तो फिर शादी क्यों 21 साल में होनी चाहिए? Also Read - मध्य प्रदेश में बड़ा राशन घोटाला: गरीबों का ढाई लाख किलो राशन खा गए अफसर-माफिया, 31 के खिलाफ केस, 3 पर NSA लगा

वर्मा ने कहा कि, ‘पता नहीं मुख्यमंत्री कहां से ऐसे विचार लेकर आते हैं. शिवराज सिंह चौहान क्या डॉक्टर हैं? प्रदेश में बच्चियों के साथ रेप की घटनाएं लगातार बढ़ती जा रही हैं. उन्हें शादी की उम्र पर बयान देने के बजाय बच्चियों की सुरक्षा पर ध्यान देना चाहिए.’

बता दें कि मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने पिछले दिनों लड़कियों की विवाह की उम्र 18 साल से 21 साल किए जाने की बात कही थी. उन्होंने कहा था लड़कों की शादी के लिए उम्र 21 साल है, इसी तरह लड़कियों की भी शादी के लिए उम्र 21 साल की जानी चाहिए. वर्तमान में लड़कों की शादी के लिए उम्र 21 साल और लड़कियों की 18 साल है.

(इनपुट: ANI, IANS)