मुरैना : रविवार शाम आई भीषण आंधी में चम्बल इलाके के मुरैना जिले में 2 लोगों की मौत और 15 लोगों के घायल होने की सूचना है. इस प्राकृतिक आपदा में कई मकान क्षतिग्रस्त हो गए और कुछ निर्माणाधीन मकानों की दीवारें ढह गईं. दर्जनों पेड़ उखड़ गए. Also Read - दमोह में आकाशीय बिजली गिरने से 7 की मौत, शिवराज, कमल नाथ ने जताया शोक

मकान गिरने से दबकर हुई महिला और बच्चे की मौत
प्रदेश के चम्बल इलाके में रविवार को सुबह से दोपहर तक तेज धूप और भीषण गर्मी थी और लोग गर्मी से बेहाल थे. लेकिन राज्य के चम्बल इलाके में रविवार की शाम अचानक मौसम ने मिजाज बदला और तेज आंधी चलने से कई घरों को क्षति पहुंची और निर्माणाधीन दीवारें गिर गई, इस प्राकृतिक आपदा में एक महिला और 12 वर्षीय बच्चे की दबने से मौत हो गई जबकि 15 अन्य लोग घायल हो गए. जिले की अम्बाह तहसील के एसडीएम आरएस बाकना ने सोमवार को मीडिया को बताया कि जिले के पोरसा क्षेत्र में कल शाम करीब 04.00 बजे आई तेज आंधी में संजय स्कूल के पास मकान ढहने से एक महिला की मौत हो गई. वहीं एक दूसरे वाकये में बायपास रोड पर एक मकान ढह गया जिसमे दबकर एक 12 वर्षीय बच्चे की मौत हो गई और 3 बच्चे और एक महिला घायल हो गई. एसडीम के मुताबिक पोरसा कस्बे के प्रेमपुरा इलाके में भी दीवारें गिरने से करीब 15 लोग घायल हुए हैं. उन्होंने बताया कि सभी घायलों को मुरैना के जिला अस्पताल में भर्ती कराया गया है.
(इनपुट एजेंसी) Also Read - बीजेपी का दावा- 76 हजार कांग्रेस कार्यकर्ता पार्टी में हुए शामिल, सिंधिया ने कही ये बात

Also Read - ग्वालियर-चंबल में हो सकता है हिस्ट्रीशीटर विकास दुबे, पुलिस अलर्ट