Olympian hockey player Vivek Sagar is honored with Rs 1 crore and appointed DSP, भोपाल: मध्य प्रदेश सरकार (Madhya Pradesh government) ने आज गुरुवार को भोपाल (Bhopal) में टोक्यो ओलंपिक (Tokyo Olympics) में कांस्य पदक जीतने वाले भारतीय पुरुष हॉकी टीम (Indian hockey team) के सदस्य विवेक सागर (Vivek Sagar) को सम्मान स्वरूप एक करोड़ रुपए की राशि देने के साथ-साथ पुलिस उपाधीक्षक (डीएसपी) भी नियुक्त किया है. भारतीय हॉकी टीम ने हाल ही में हुए टोक्यो ओलंपिक खेलों में कांस्य पदक जीता है, जिसमें विवेक भी शामिल थे.Also Read - MP: शख्‍स ने अपनी पत्‍नी को गिफ्ट में दिया अनोखा 'ताजमहल', फोटोज में देखें खूबसूरती

Also Read - विपक्षी दलों ने सांसदों के निलंबन की निंदा की, आगे की रणनीति के लिए मंगलवार को करेंगे बैठक

मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान (Chief Minister Shivraj Singh Chouhan) ने आज गुरुवार को भोपाल में मिंटो हॉल में सागर को एक करोड़ रुपए की राशि से ओलंपियन हॉकी प्‍लेयर विवेक सागार (Olympian hockey player) सम्मानित किया. इसके बाद सीएम चौहान ने कहा, ”विवेक आज से मध्य प्रदेश के डीएसपी भी हैं.” उन्होंने यह भी ऐलान किया कि मध्य प्रदेश में जहां भी वे चाहेंगे, वहां एक पक्का घर बनाकर उन्हें दिया जाएगा. Also Read - Omicron Threat: बोत्सवाना से जबलपुर आई महिला की तलाश कर रहे हैं एमपी के अफसर

मुख्यमंत्री ने कहा, टोक्यो ओलंपिक में भारतीय हॉकी टीम ने केवल कांस्य पदक ही नहीं जीता है, बल्कि भारतीय हॉकी का यह पुनर्जागरण है.” विवेक सागर मध्य प्रदेश के होशंगाबाद जिले के चांदोन पिपरिया ग्राम के निवासी हैं. चौहान ने कहा कि हॉकी का यह पदक जीतकर विवेक ने चांदोन पिपरिया गांव, इटारसी, मध्य प्रदेश एवं पूरे देश को गौरवान्वित किया है.

विवेक ने अर्जेन्टीना के खिलाफ मैच में गोल दागकर भारत की क्वार्टर फाइनल में जगह सुनिश्चित की थी, जिसके बाद चौहान ने इस मिडफील्डर से बात करके उन्हें बधाई दी थी. भारतीय टीम सेमीफाइनल में बेल्जियम से हार गई थी लेकिन तीसरे स्थान के प्ले आफ मुकाबले में जर्मनी को हराकर ओलंपिक कांस्य पदक जीतने में सफल रही.

सीएम चौहान ने कहा कि महिला हॉकी खिलाड़ियों को भी प्रोत्साहित किया जाएगा. भारतीय महिला हॉकी टीम ने टोक्यो ओलंपिक 2020 में चौथा स्थान अर्जित किया है, यह भी कम सम्मान की बात नहीं. उन्होंने कहा कि भारतीय महिला हॉकी टीम की प्रत्येक खिलाड़ी को 31-31 लाख रुपए की राशि सम्मान स्वरूप दी जाएगी.