इंदौर: पुलिस ने यहां 10 साल से कम उम्र की दो सगी बहनों के यौन शोषण के आरोप में 52 वर्षीय व्यक्ति को सोमवार को गिरफ्तार किया. यह जिले में छोटी बच्चियों को हवस का शिकार बनाने का सप्ताह भर में तीसरा मामला है. आजाद नगर पुलिस थाने के प्रभारी दिलीप पुरी ने बताया कि क्षेत्र में आठ वर्षीय बच्ची और उसकी छह साल की छोटी बहन के कथित यौन शोषण पर पकड़े गये आरोपी की पहचान राजाराम मालवीय (52) के रूप में हुई है. मालवीय पीड़ित बच्चियों के पड़ोस में रहता है और वे उसे “दादा” कहकर पुकारती हैं. थाना प्रभारी के मुताबिक मालवीय पर आरोप है कि वह आठ वर्षीय बच्ची के साथ दुष्कर्म करता था, जबकि उसकी छोटी बहन के साथ अश्लील हरकतें करता था.

रुक नहीं रहे बच्चियों के खिलाफ अपराध, जबलपुर में 14 साल की बच्ची से रेप

पुलिस ने शासकीय महाराजा यशवंतराव चिकित्सालय में दोनों बच्चियों का मेडिकल परीक्षण कराया है. मामले की जांच से जुड़े एक अन्य पुलिस अधिकारी ने बताया कि इस घिनौने मामले का पता तब चला, जब आठ साल की बच्ची ने अपनी मां से शिकायत की कि उसे पेट के नीचे दर्द हो रहा है. जब मां ने बेटी से बात की, तो उसने बताया कि मालवीय उसके साथ पिछले कई दिनों से दुष्कर्म कर रहा है. पीड़ित बच्ची की छोटी बहन ने अपनी मां से शिकायत की कि मालवीय उसके साथ भी गंदी हरकतें करता है.

रेप कर 100 रुपए का इनाम देता था TDP वर्कर, बच्ची के पेट में दर्द होने पर डॉक्टर की बात सुन दंग रह गया परिवार

पुलिस अधिकारी ने बताया कि मालवीय दोनों मासूम बच्चियों को कथित तौर पर तब हवस का शिकार बनाता था, जब उनके माता-पिता काम पर जाते थे और वे घर में अकेली होती थीं. इससे पहले, सिमरोल क्षेत्र में जनजातीय समुदाय की छह वर्षीय बच्ची के साथ नाबालिग लड़कों द्वारा कथित सामूहिक दुष्कर्म का मामला 27 सितंबर को सामने आया था. बालिकाओं के खिलाफ बढ़ते यौन अपराधों का मुद्दा फिर गरमा गया, जब एमजी रोड क्षेत्र में 28 सितंबर को एक साल की दुधमुंही बच्ची तथा उसकी चार वर्षीय सगी बहन को अगवा करने के बाद उनके साथ कथित तौर पर बलात्कार किया गया था. दोनों मामलों में आरोपियों को पुलिस गिरफ्तार कर चुकी है.