भोपाल: कांग्रेस छोड़ भाजपा में शामिल हुए मध्यप्रदेश के दिग्गज नेता ज्योतिरादित्य सिंधिया ने गुरुवार को कहा कि भारतीय जनता पार्टी में शामिल होने के लिए वह स्वयं को भाग्यशाली मानते हैं. इसके साथ ही उन्होंने भाजपा कार्यकर्ताओं को आश्वासन दिया कि वह उनके लिए पूरे दिल से मेहनत करेंगे. Also Read - कोरोना वायरस ने बढ़ाई सरकार की चिंता, भोपाल, इंदौर और उज्जैन पूरी तरह सील

भाजपा में शामिल होने के बाद पहली दफा भोपाल में प्रदेश भाजपा कार्यालय पर पार्टी कार्यकर्ताओं को संबोधित करते हुए सिंधिया ने कहा कि जिस संगठन, जिस परिवार में मैंने बीस साल बिताएं हैं. मेरे मेहनत, लगन, संकल्प के साथ अपना खून और पसीना वहां दिया. उस सब को छोड़कर मैं अपने आप को आपके हवाले कर रहा हूं. उन्होंने कहा कि भाजपा में शामिल होने के लिए मैं अपने का भाग्यशाली मानता हूं. पार्टी अध्यक्ष जगत प्रकाश नड्डा, प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी और गृह मंत्री अमित शाह ने इस पार्टी के दरवाजे मेरे लिए खोल दिए. उन्होंने कहा कि वह अपने साथ केवल एक चीज लाए हैं और वह है उनकी कड़ी मेहनत. Also Read - Indore के बाद Coronavirus का दूसरा बड़ा Hotspot बना Bhopal, हर दिन बढ़ रही संक्रमितों की संख्या

सिंधिया के स्वागत कार्यक्रम के दौरान पूर्व मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान भी मौजूद
प्रदेश भाजपा कार्यालय में सिंधिया के स्वागत कार्यक्रम के दौरान पूर्व मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान भी मौजूद थे. सिंधिया ने कहा कि आज का दिन मेरे लिए भावुक दिन है. मैं स्वयं को भाग्यशाली समझता हूं कि इस परिवार (भाजपा) ने मेरे लिए अपने दरवाजे खोल दिए. उन्होंने कहा कि मैं गर्व से कहता हूं कि अटल बिहारी वाजपेयी, नरेन्द्र मोदी, सिंधिया परिवार की मेरी दादी राजमाता विजयाराजे सिंधिया हों या मेरे पिताजी, और वर्तमान में सिंधिया परिवार का मुखिया होने के नाते मैं, हमारा लक्ष्य राजनीति नहीं. हमारा लक्ष्य जन सेवा है. Also Read - केंद्र सरकार पर कांग्रेस का आरोप, डर कर बदला दवा देने का फैसला, 1971 में इंदिरा गांधी ने दिया था करारा जवाब