भोपाल: भाजपा के राष्ट्रीय महासचिव कैलाश विजयवर्गीय ने इंदौर में एक किसान जनसभा को संबोधित करते हुए एक बड़ा बयान दिया है. उन्होंने किसान सभा को संबोधित करते हुए हुए कहा कि मध्य प्रदेश में कमलनाथ की सरकार को गिराने में अगर किसी की भूमिका थी तो वग नरेंद्र मोदी की थी. बता दें कि कृषि कानूनों के खिलाफ हो रहे आंदोलनों और बहस के बीच भाजपा द्वारा अलग अलग शहरों में किसान सम्मेलनों का आयोजन किया जा रहा. इंदौर के इस किसान सम्मेलन की जिम्मेदारी नरोत्तम मिश्रा को दी गई थी. Also Read - Pradhan Mantri Awas Yojana: पीएम मोदी ने गरीबों को भेजे 2700 करोड़ रुपए, खातों में आए या नहीं, ऐसे करें चेक

अपने भाषण के दौरान कैलाश विजयवर्गीय ने कहा कि मध्यप्रदेश में जबतक कमलनाथ की सरकार थी, तब तक चैन से सोने नहीं दिया. मैं पहली बार एक पर्दे के पीछे की बात कहने जा रहा हूं, जिसे आजतक मैंने किसी को नहीं बताई है कि कमलनाथ की सरकार को गिराने में यदि महत्वपूर्ण भूमिका किसी की थी तो वह नरेंद्र मोदी की थी, ना कि धर्मेंद्र प्रधान जी की. Also Read - बजट से पहले सर्वदलीय बैठक का आयोजन, पीएम नरेंद्र मोदी करेंगे अध्यक्षता

कैलाश विजयवर्गीय द्वारा दिए गए इस बयान के बाद कांग्रेस पार्टी हरकत में आ गई और प्रतिक्रिया देते हुए कहा कि कैलाश विजयवर्गीय ने खुद हमारे आरोपों की पुष्टि कर दी है. कांग्रेस के प्रवक्ता नरेंद्र सलूजा ने कहा कि भाजपा के राष्ट्रीय महासचिव ने किसान सम्मेलन को संबोधित करने के दौरान हमारे उन आरोपों की पुष्टि कर दी है, जिसमें कमलनाथ सरकार को बीच में ही नरेंद्र मोदी के इशारे पर गिराया गया था. Also Read - Check PMAYG 2021 Beneficiary List: प्रधानमंत्री आवास योजना के तहत 2691 करोड़ रुपये की वित्तीय सहायता जारी करेंगे पीएम मोदी, जानिए कैसे लें इस योजना का लाभ