भोपाल: भाजपा के राष्ट्रीय महासचिव कैलाश विजयवर्गीय ने इंदौर में एक किसान जनसभा को संबोधित करते हुए एक बड़ा बयान दिया है. उन्होंने किसान सभा को संबोधित करते हुए हुए कहा कि मध्य प्रदेश में कमलनाथ की सरकार को गिराने में अगर किसी की भूमिका थी तो वग नरेंद्र मोदी की थी. बता दें कि कृषि कानूनों के खिलाफ हो रहे आंदोलनों और बहस के बीच भाजपा द्वारा अलग अलग शहरों में किसान सम्मेलनों का आयोजन किया जा रहा. इंदौर के इस किसान सम्मेलन की जिम्मेदारी नरोत्तम मिश्रा को दी गई थी.Also Read - Republic Day Parade 2022: जानिए कहां और कैसे देखें गणतंत्र दिवस परेड की LIVE स्ट्रीमिंग

अपने भाषण के दौरान कैलाश विजयवर्गीय ने कहा कि मध्यप्रदेश में जबतक कमलनाथ की सरकार थी, तब तक चैन से सोने नहीं दिया. मैं पहली बार एक पर्दे के पीछे की बात कहने जा रहा हूं, जिसे आजतक मैंने किसी को नहीं बताई है कि कमलनाथ की सरकार को गिराने में यदि महत्वपूर्ण भूमिका किसी की थी तो वह नरेंद्र मोदी की थी, ना कि धर्मेंद्र प्रधान जी की. Also Read - हमारी संस्कृति मिटाने की कोशिश हुई, अब नया भारत बनाना है, पराक्रम दिवस पर PM मोदी ने और क्या कहा, पढ़ें

कैलाश विजयवर्गीय द्वारा दिए गए इस बयान के बाद कांग्रेस पार्टी हरकत में आ गई और प्रतिक्रिया देते हुए कहा कि कैलाश विजयवर्गीय ने खुद हमारे आरोपों की पुष्टि कर दी है. कांग्रेस के प्रवक्ता नरेंद्र सलूजा ने कहा कि भाजपा के राष्ट्रीय महासचिव ने किसान सम्मेलन को संबोधित करने के दौरान हमारे उन आरोपों की पुष्टि कर दी है, जिसमें कमलनाथ सरकार को बीच में ही नरेंद्र मोदी के इशारे पर गिराया गया था. Also Read - IAS Cadre Rules: आईएएस कैडर के नियमों में बदलाव करने जा रही केंद्र सरकार, जानें क्या होंगे नए नियम?