नई दिल्‍ली: मध्‍य प्रदेश के पूर्व मुख्‍यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने मंगलवार को भोपाल में कहा, मध्यप्रदेश सरकार को पता है कि इनके पास अब बहुमत नहीं है परन्तु लगातार संवैधानिक पदों पर नियुक्ति की जा रही हैं. कुछ अधिकारी इनके कहने पर काम कर रहे हैं, मैं आज उनको चेतावनी देना चाहता हूं एक-एक की सूची बना रहा हूं, जो गलत काम कर रहे है, उसको हम छोड़ेंगे नहीं. उनसे निपटा जाएगा, एक-एक का हिसाब किया जाएगा. उनके इस बयान का वीडियो सामने आया है. Also Read - केंद्र सरकार पर कांग्रेस का आरोप, डर कर बदला दवा देने का फैसला, 1971 में इंदिरा गांधी ने दिया था करारा जवाब

चौहान ने कहा, कहा, ”अल्पमत की सरकार लगातार नियुक्तियां कर रही है. इनमें से कई नियुक्ति संवैधानिक प्रकृति की हैं और उनका कार्यकाल निश्चित होता है, जैसे. अध्यक्ष राज्य महिला आयोग, अध्यक्ष राज्य युवा आयोग, सदस्य मध्यप्रदेश लोक सेवा आयोग इत्यादि. इन जगहों पर कांग्रेस कार्यकर्ताओं को बैठाया जा रहा है.” Also Read - कांग्रेस ने सांसदों के वेतन में कटौती का स्वागत किया, सांसद निधि बहाल करने की मांग

राजभवन में राज्यपाल से मिलने के बाद चौहान ने कहा, मध्यप्रदेश की वर्तमान सरकार अल्पमत की सरकार है. राज्यपाल ने भी दो बार पत्र लिख कर मुख्यमंत्री कमलनाथ को सदन में बहुमत सिद्ध करने का अवसर दिया. पहले 16 मार्च को और फिर 17 मार्च तक. लेकिन सरकार बहाने बनाकर बहुमत परीक्षण से बच रही है.

राजभवन में राज्यपाल से मिलने के बाद मीडियाकर्मियों से पूर्व सीएम व बीजेपी नेता चौहान ने कहा, मध्यप्रदेश की वर्तमान सरकार अल्पमत की सरकार है. राज्यपाल ने भी दो बार पत्र लिख कर मुख्यमंत्री कमलनाथ को सदन में बहुमत सिद्ध करने का अवसर दिया. पहले 16 मार्च को और फिर 17 मार्च तक. लेकिन सरकार बहाने बनाकर बहुमत परीक्षण से बच रही है.