इंदौर: देश में कोरोना वायरस से सबसे ज्यादा प्रभावित जिलों में शामिल मध्‍य प्रदेश इंदौर में जारी लॉकडाउन को तीन मई के बाद 10 से 20 दिन तक बढ़ाया जाएगा. इस महामारी के प्रकोप के कारण देशव्यापी लॉकडाउन का दूसरा चरण तीन मई को खत्म होने वाला है. Also Read - 5,000 के पार पहुंची कोविड-19 से मरने वालों की संख्या, कल से शुरू होगा लॉकडाउन से निकलने का पहला चरण; 13 बड़ी बातें

जिलाधिकारी मनीष सिंह ने शुक्रवार को बताया, “कोविड-19 के मौजूदा हालात को देखते हुए हमने चिकित्सा के जानकारों, जन प्रतिनिधियों और अन्य संबद्ध पक्षों से विस्तृत चर्चा की है. इसके बाद तय किया गया है कि जिले में लागू लॉकडाउन को तीन मई के बाद 10 से 20 दिन तक बढ़ाया जाएगा. ” Also Read - दिल्ली में कोरोना का नया रिकॉर्ड, 1 दिन में 1163 नए मामले सामने आए

जिलाधिकारी ने कहा, “हमने कड़ी मशक्कत के बाद शहर में कोविड-19 की स्थिति को नियंत्रित किया है. अभी हालात में 70 प्रतिशत तक सुधार है. स्थिति को पूरी तरह सामान्य करने के लिए लॉकडाउन बढ़ाना जरूरी है.” Also Read - Lockdown 5: अब एक राज्य से दूसरे राज्य जाने पर कोई प्रतिबंध नहीं

सिंह ने बताया कि शहर में कोविड-19 के नए मरीजों की तादाद में कमी आई है, जबकि इलाज के बाद स्वस्थ होने वाले लोगों की संख्या बढ़ रही है. जिलाधिकारी ने बताया कि उन्होंने पुलिस से कहा है कि जिले भर में लॉकडाउन को सख्ती से लागू कराया जाए और इसका उल्लंघन करने वाले लोगों को गिरफ्तार किया जाए. उन्होंने कहा, “हम लॉकडाउन का उल्लंघन कतई बर्दाश्त नहीं करेंगे.”

सिंह ने बताया, “हमने इंदौर शहर में अनिश्चितकालीन कर्फ्यू का आदेश पहले से जारी कर रखा है. लिहाजा इसकी अवधि बढ़ाने के लिये अलग से कोई आदेश जारी करने की आवश्यकता नहीं है.”

इंदौर जिले में अब तक कोविड-19 के 1,513 मरीज मिल चुके हैं, जिनमें से 72 लोगों की इलाज के दौरान मौत हो चुकी है. जिले के 250 से ज्यादा लोगों को इस संक्रमण से मुक्त होने पर अस्पतालों से छुट्टी दी जा चुकी है.

इंदौर में कोरोना वायरस का पहला मरीज मिलने के बाद से प्रशासन ने 25 मार्च से शहरी सीमा में कर्फ्यू लगा रखा है, जबकि जिले के अन्य स्थानों पर सख्त लॉकडाउन लागू है.