Top Recommended Stories

लॉकडाउन में घरजमाई बना दामाद, फिर साली को बाईक पर ले भागा

पमारिया गांव में लॉकडाउन के दौरान कामकाज ठप्प पड़ने के कारण दामाद 2 महीन तक घर जमाई बनकर अपने ससुराल में रहा और उसका प्रेम प्रसंग अपनी साली के संग शुरू हो गया जोकि 17 साल की थी.

Published: November 28, 2020 6:08 PM IST

By Avinash Rai

Love Jihad
The bill is aimed at prohibiting religious conversions through threat, coercion, fraud, allurement, misrepresentation and by marriage or for marriage.

भोपाल: लॉकडाउन ने पूरी दुनिया में रह रहे लोगों के जीवन पर सकारात्मक और नकारात्मक प्रभाव डाला है. ऐसे में कुछ प्रभाव ऐसे हैं जिन्हें चाहकर भी भुलाया नहीं जा सकता है. लॉकडाउन का ही एक मामला मध्यप्रदेश के विदिशा में देखने को मिला. यहां लॉकडाउन में एक दामाद घर जमाई बनकर रह गया. जिसके बाद उसका चक्कर अपनी ही साली से चलने लगा और मौका देखकर वह अपनी साली को लेकर भाग गया.

पमारिया गांव में लॉकडाउन के दौरान कामकाज ठप्प पड़ने के कारण दामाद 2 महीन तक घर जमाई बनकर अपने ससुराल में रहा और उसका प्रेम प्रसंग अपनी साली के संग शुरू हो गया जोकि 17 साल की थी. ऐसे में दोनों की लगातार बढ़ रही नजदीकियां पत्नी और सास की नजरों में आ गई है. हालांकि दामाद ने उनसे झूठ कहा कि वह उसकी छोटी बहन के जैसी है. लेकिन यही दामाद 7 दिन पहले अपनी साली को लेकर भाग गया.

You may like to read

पुलिस को इस मामले की जानकारी जैसे ही हुई पुलिस ने छानबीन शुरू कर दी और दामाद और साली को पकड़ लिया. हालांकि साली ने शुक्रवार के दिन अपन घर पर जहरीला पदार्थ खा लिया जिस कारण उसे अस्पताल में भर्ती कराना पड़ा. दामाद का नाम बृजेश है. वह अपनी साली को लेकर भोपाल भाग गया था, जहां से पुलिस ने उसे पकड़ लिया.

इस पूरे मामले पर परिवार वालों का कहना है कि बृजेश ने उनके घर को बिगाड़ दिया. बृजेश अपनी पत्नी से छोटी छोटी बात पर मारपीट करने लगा और उससे अलग होने की भी धमकी देता था, ऐसे में नाराज पत्नी अपने मायके में रहने चली गई थी. 7 दिन पहले जब बृजेश अपने ससुराल आया तो इसी दौरान अपने बाइक पर वह अपनी साली को लेकर भाग गया. हालांकि पुलिस ने दोनों को पकड़ लिया है.

Also Read:

ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज अपडेट के लिए हमें फेसबुक पर लाइक करें या ट्विटर पर फॉलो करें. India.Com पर विस्तार से पढ़ें India Hindi की और अन्य ताजा-तरीन खबरें

By clicking “Accept All Cookies”, you agree to the storing of cookies on your device to enhance site navigation, analyze site usage, and assist in our marketing efforts Cookies Policy.