भोपाल: लॉकडाउन ने पूरी दुनिया में रह रहे लोगों के जीवन पर सकारात्मक और नकारात्मक प्रभाव डाला है. ऐसे में कुछ प्रभाव ऐसे हैं जिन्हें चाहकर भी भुलाया नहीं जा सकता है. लॉकडाउन का ही एक मामला मध्यप्रदेश के विदिशा में देखने को मिला. यहां लॉकडाउन में एक दामाद घर जमाई बनकर रह गया. जिसके बाद उसका चक्कर अपनी ही साली से चलने लगा और मौका देखकर वह अपनी साली को लेकर भाग गया. Also Read - लड़की को लेकर थाने पहुंचा लड़का, इंस्पेक्टर से कहा- प्लीज, हमारी शादी करा दीजिए, प्यार करते हैं बहुत

पमारिया गांव में लॉकडाउन के दौरान कामकाज ठप्प पड़ने के कारण दामाद 2 महीन तक घर जमाई बनकर अपने ससुराल में रहा और उसका प्रेम प्रसंग अपनी साली के संग शुरू हो गया जोकि 17 साल की थी. ऐसे में दोनों की लगातार बढ़ रही नजदीकियां पत्नी और सास की नजरों में आ गई है. हालांकि दामाद ने उनसे झूठ कहा कि वह उसकी छोटी बहन के जैसी है. लेकिन यही दामाद 7 दिन पहले अपनी साली को लेकर भाग गया. Also Read - पत्नी है या गोपीचंद जासूस...फ्लैट के बाथरूम में की छापेमारी, गर्लफ्रेंड के साथ थानेदार पति को धर दबोचा, फिर...

पुलिस को इस मामले की जानकारी जैसे ही हुई पुलिस ने छानबीन शुरू कर दी और दामाद और साली को पकड़ लिया. हालांकि साली ने शुक्रवार के दिन अपन घर पर जहरीला पदार्थ खा लिया जिस कारण उसे अस्पताल में भर्ती कराना पड़ा. दामाद का नाम बृजेश है. वह अपनी साली को लेकर भोपाल भाग गया था, जहां से पुलिस ने उसे पकड़ लिया. Also Read - लिव-इन में कॉलेज स्‍टूडेंट हुई प्रेग्‍नेंट, शादी से इनकार पर प्रेमी जेल की सलाखों के पीछे पहुंचा

इस पूरे मामले पर परिवार वालों का कहना है कि बृजेश ने उनके घर को बिगाड़ दिया. बृजेश अपनी पत्नी से छोटी छोटी बात पर मारपीट करने लगा और उससे अलग होने की भी धमकी देता था, ऐसे में नाराज पत्नी अपने मायके में रहने चली गई थी. 7 दिन पहले जब बृजेश अपने ससुराल आया तो इसी दौरान अपने बाइक पर वह अपनी साली को लेकर भाग गया. हालांकि पुलिस ने दोनों को पकड़ लिया है.