बालाघाट। मध्य प्रदेश के बालाघाट में एक पटाखा फैक्ट्री में आग लगने से बड़ा विस्फोट हुआ. विस्फोट इतना भीषण था कि 22 लोग मारे गए. मृतकों का आंकड़ा अभी और बढ़ सकता है. मरने वाले सभी मजदूर हैं जो उसी फैक्ट्री में काम करते थे. इस हमले में करीब 7 लोग घायल हो गए. अधिकांश घायलों की हालत गंभीर बताई जा रही है. मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने मुआवजे का ऐलान किया है.Also Read - Ujjain News: GAIL के गैस बॉटलिंग प्लांट में बड़ा हादसा, LPG गैस टैंक में गिरने से 2 मजदूरों की मौत

बताया जा रहा है कि विस्फोट के वक्त फैक्ट्री में 30 से 40 लोग मौजूद थे. गंभीर रूप से घायलों को जिला अस्पताल में इलाज के लिए भर्ती किया गया है. हालांकि, कलेक्टर भरत यादव ने छह लोगों के मौत होने की बात कही है. प्रशासनिक अफसर हताहतों की संख्या बढ़ने की आशंका जता रहे है. वहीं, राजधानी भोपाल में आईजी इंटेलीजेंस ने कम से कम 10 लोगों के मौत होने की पुष्टि की है. Also Read - MP: 16 साल के लड़के ने की खुदकुशी, सुसाइड नोट में PM मोदी से अपनी अंतिम इच्‍छा पूरी करने का आग्रह कर गया

अतिरिक्त पुलिस महानिदेशक जी. जनार्दन ने आईएएनएस को बताया, “कोतवाली थाना अंतर्गत मंडला रोड पर स्थित खैरी गांव में स्थित पटाखा फैक्टरी में बुधवार अपराह्न् लगभग साढ़े तीन बजे विस्फोट हो गया। इस विस्फोट में कारखाने की दीवारें भी ढह गईं।” Also Read - MP: इंदौर में दो समुदायों के बीच रात में हुई भिडंत में कम से कम से 7 लोग घायल

जनार्दन के मुताबिक, “इस हादसे में मृतकों की संख्या 23 हो गई है, जबकि गंभीर रूप से घायल आठ लोगों को अस्पताल भेजा गया है। छह घायल को नागपुर भेजा गया और दो का बालाघाट अस्पताल में इलाज जारी है। राहत और बचाव कार्य जारी है। ढही दीवारों के नीचे कुछ लोगों के दबे होने की आशंका है। मलबे को हटाने का काम चल रहा है।” बताया गया है कि जिस मकान में विस्फोट हुआ है, उसके आसपास के भी मकान क्षतिग्रस्त हुए है।

गौरतलब कि किसान आंदोलन के चलते मध्य प्रदेश पहले ही सुलग रहा है उसपर यह बड़ा हादसा सूबे के लिए मुसीबत भरा है. शिवराज सिंह ने चौहान ने बालाघाट में मृतकों के परिजनों को 2 लाख रुपये की आर्थिक सहायता देने का फैसला किया है.