भोपाल: कांग्रेस छोड़कर भाजपा में शामिल हुए मध्य प्रदेश के 21 पूर्व विधायक शनिवार रात विशेष विमान से भोपाल पहुंच गए. इसके पहले कांग्रेस के बागी इन 21 पूर्व विधायकों ने नई दिल्ली में भाजपा की सदस्यता ग्रहण की. एक बागी पूर्व विधायक पारिवारिक कारणों से भाजपा की सदस्यता नहीं ले सका. भाजपा की सदस्यता लेने के बाद 21 पूर्व विधायक शनिवार रात विशेष विमान से यहां पहुंचे. इन विधायकों में गोविंद सिंह राजपूत, प्रद्युम्न सिंह तोमर, इमरती देवी, तुलसी सिलावट, प्रभुराम चौधरी, महेंद्र सिंह सिसोदिया, एंदल सिंह कंसाना, रघुराज सिंह कंसाना, गिरराज दंडौतिया, कमलेश जाटव, ओ.पी. एस. भदौरिया, रणवीर जाटव, मुन्ना लाल गोयल, रक्षा संतराम सिरौनिया, जसवंत जाटव, जसपाल सिंह जज्जी, बृजेंद्र सिंह यादव, बिसाहू लाल सिंह, मनोज चौधरी, राजवर्धन सिंह, हरदीप सिंह डंग शामिल हैं. जबकि एक पूर्व विधायक सुरेश धाकड़ पारिवारिक कारणों से भाजपा की सदस्यता नहीं ले सके. Also Read - Madhya Pradesh: सीहोर के जिला अस्पताल में कोरोना मरीजों के सभी बेड फुल, भोपाल के इस अस्पताल में ऑक्सीजन की भारी कमी

भाजपा में शामिल होकर भोपाल पहुंचे इन पूर्व विधायकों के स्वागत की कोई तैयारी नहीं रही, क्योंकि कोरोनावायरस के बढ़ते प्रभाव के कारण सार्वजनिक समारोहों पर रोक है. इन सभी नेताओं की सुरक्षा के पुख्ता इंतजाम किए गए थे, क्योंकि ये बागी अपनी सुरक्षा को लेकर लगातार चिंता जताते आ रहे हैं. Also Read - West Bengal Assembly Election Live Updates: बंगाल में छठे चरण का मतदान जारी, दोपहर 1.30 बजे तक 57.30% वोटिंग

ज्ञात हो कि पिछले दिनों कांग्रेस के 22 विधायकों ने बगावत कर मध्य प्रदेश विधानसभा की सदस्यता से इस्तीफा दे दिया था. इनमें से छह का पहले और 16 का बाद में इस्तीफा मंजूर किया गया. इस तरह सभी 22 बागियों का इस्तीफा मंजूर किए जाने के बाद कांग्रेस की सरकार अल्पमत में आ गई. सुप्रीम कोर्ट के बहुमत परीक्षण के निर्देश के बाद कमलनाथ ने मुख्यमंत्री पद से इस्तीफा दे दिया. ये सभी बागी पूर्व विधायक इससे पहले बेंगलुरू में डेरा डाले हुए थे. Also Read - देवेंद्र फडणवीस के 23 वर्षीय भतीजे ने लगवाई कोरोना की वैक्सीन, कांग्रेस ने तस्वीर साझा कर किया हमला

(इनपुट आईएएनएस)