भोपाल: मध्य प्रदेश की राजधानी भोपाल के पिपलानी इलाके में सूदखोरो से परेशान होकर एक परिवार ने ज़हर (Suicide) खा लिया. परिवार के पांच लोगों ने ज़हर खाया, इनमें से चार लोगों की मौत हो गई. ये परिवार सूदखोर महिलाओं से परेशान था. सूदखोरी करने वाली गैंग की चार महिलाएं पुलिस की गिरफ्त में है.Also Read - दोस्तों को बुलाकर अपनी ही पत्नी से कराता था गैंगरेप, पति चौंकाने वाले तरीके से करता था प्रताड़ित, अब...

बता दें कि पिपलानी थाना क्षेत्र के आनंद नगर में रहने वाला संजीव जोशी कार मैकेनिक था और उसकी पत्नी अर्चना जोशी किराना दुकान चलाती थी. गुरुवार की रात को संजीव,उसकी पत्नी अर्चना और मां नंदिनी के अलावा दो बेटियों ने जहर खा लिया था. गंभीर हालत में उन्हें एक निजी अस्पताल में भर्ती कराया गया है. अर्चना के अलावा चारों की मौत हो गई है. Also Read - मध्य प्रदेश: 14 साल की लड़की से ट्रक में गैंगरेप, हत्या कर शव चंबल नदी में फेंका

पीड़ित परिवार ने अपनी तस्वीरें सोशल मीडिया पर पोस्ट की थी और सुसाइड नोट भी छोड़ गया था. इसमें चार महिलाओं पर कर्ज में ली गई रशि केा लेकर प्रताड़ित करने का आरोप था. इन महिलाओं ने कर्ज में दी हजारों की रशि पर लाखों का ब्याज लगाया था और प्रताडित करने के साथ तरह-तरह की धमकियां देती थीं. अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक राजेष सिंह भदौरिया के अनुसार चारों महिला आरोपियों को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है. उन पर आत्महत्या के लिए प्रताड़ित करने और सूदखोरी का मामला दर्ज किया गया है. Also Read - भारत में 2 सालों में पेड़, वन क्षेत्र में 2261 वर्ग KM की बढ़ोतरी हुई : ISFR Report

मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने भी इस घटना को लेकर कहा कि सूदखोरों-साहूकारों द्वारा मनमाना ब्याज लिए जाने से घटित घटना ह्रदय विदारक और असहनीय है. साथ ही उन्होंने इसे गंभीरता से लेते हुए अवैधानिक रूप से सूदखोरी का काम करने वाले लोगों के खिलाफ सख्त कार्यवाही करने के निर्देश दिए.