भोपाल: कांग्रेस के वरिष्ठ नेता और राजस्थान के पूर्व उप मुख्यमंत्री सचिन पायलट (Sachin Pilot) ने केंद्र सरकार के कृषि संशोधन कानूनों को किसानों पर घातक प्रहार बताया है. मध्य प्रदेश में होने जा रहे विधानसभा उपचुनाव में प्रचार करने आए पूर्व केंदीय मंत्री सचिन पायलट ने मंगलवार को मौजूदा केंद्र सरकार की नीतियों की आलोचना की और कहा कि केंद्र की मोदी सरकार ने कृषि कानूनों में जो संशोधन किया है, वह किसानों के ऊपर घातक प्रहार है. मंडी बंद, हाट बंद, मजदूरी बंद और समर्थन मूल्य बंद हो जाएगा तो यह किसानों के लिए घातक साबित होगा.Also Read - Omicron variant new strain: इंदौर में ओमीक्रोन वैरियंट के नए स्ट्रेन BA.2 के कई मामल मिले, 6 बच्चे भी आए चपेट में

कांग्रेस नेता सचिन पायलट ने शिवपुरी जिले की पोहरी और करैरा विधानसभा क्षेत्रों में जनसभाओं को संबोधित किया और भाजपा पर निशाना साधते हुए कहा कि मध्य प्रदेश में शिवराज सरकार पिछले दरवाजे से सरकार में आ गई है, लेकिन लोकतंत्र में सबसे बड़ी ताकत जनता होती है और उसी के पास नेताओं को वोट मांगने के लिए आना पड़ता है. इसलिए इस विधानसभा उपचुनाव में जनता सोच-समझकर निर्णय करे और देश को बांटने वाली ताकतों को परास्त करे. Also Read - Delhi, Mumbai में घटी कोरोना की रफ्तार, कर्नाटक में बड़ी संख्‍या में आए केस, देखें अपने राज्य का अपडेट

उन्होंने कांग्रेस के पक्ष में वोट देने की अपील करते हुए कहा कि यही पार्टी है जो देश की आजादी के पहले से जनहित व देशहित में काम कर रही है. बता दें कि शिवपुरी इलाका ग्वालियर चम्बल में आता है और ग्वालियर चम्बल कांग्रेस छोड़ बीजेपी में गए ज्योतिरादित्य सिंधिया (Jyotiraditya Scindia) का गढ़ माना जाता है. ज्योतिरादित्य सिंधिया के बीजेपी में जाने से मध्य प्रदेश में कांग्रेस की सरकार गिर गई थी. Also Read - अफसरों ने एक्टर रजा मुराद को भोपाल का ब्रांड एंबेसडर बनाया, शिवराज सरकार ने कुछ घंटे में ही हटाया