भोपाल: एक न्यूज चैनल द्वारा किये गये एग्जिट पोल के साथ यह अनुमान लगाया गया है कि मध्यप्रदेश में 28 विधानसभा के हाल ही में हुए उपचुनावों में सत्तारुढ़ भाजपा 16 से 18 सीटें जीत सकती है. एग्जिट पोल के अनुमान आने के बाद मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने शनिवार को यहां पार्टी नेताओं के साथ एक बैठक की. प्रदेश में 28 सीटों पर उपचुनाव के तहत तीन नवंबर को मतदान हो चुका है जबकि दस नवंबर को मतों की गणना होगी.Also Read - Parliament Winter Session: विपक्षी नेताओं ने की मुलाकात, वेंकैया नायडू की दो टूक-सांसदों को माफी मांगनी ही होगी

‘आज तक-एक्सिस’ के एग्जिट पोल में अनुमान लगाया गया है कि दस नवंबर को होने वाली मतगणना में भाजपा मध्य प्रदेश में 16 से 18 सीटें जीत सकती है जबकि विपक्षी दल कांग्रेस 10 से 12 सीटों पर सीमित रहेगा. Also Read - Omicron Scare: इंटरनेशनल फ्लाइट्स की बहाली के सवाल पर मंत्री ज्योतिरादित्य सिंधिया ने दिया ये जवाब

भाजपा के प्रदेश प्रवक्ता रजनीश अग्रवाल ने बताया कि मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान, प्रदेश भाजपा अध्यक्ष वीडी शर्मा और भाजपा के अन्य पदाधिकारियों ने शनिवार को पार्टी नेताओं और कार्यकर्ताओं से मतदान का ब्यौरा हासिल किया. Also Read - MP: शख्‍स ने अपनी पत्‍नी को गिफ्ट में दिया अनोखा 'ताजमहल', फोटोज में देखें खूबसूरती

मध्यप्रदेश में 28 सीटों पर उपचुनाव के तहत तीन नवंबर को मतदान हुआ है. इसमें से 25 सीटें कांग्रेस विधायकों के त्यागपत्र देकर भाजपा में शामिल होने से तथा तीन सीटें विधायकों के निधन होने से रिक्त हुई थीं.

मालूम हो कि इस वर्ष मार्च माह में कांग्रेस के 22 विधायकों के त्यागपत्र देने के बाद भाजपा में शामिल होने से कमलनाथ सरकार अल्पमत में आकर गिर गई थी. इनमें अधिकांश विधायक ज्योतिरादित्य सिंधिया के समर्थक थे. सिंधिया स्वयं भी मार्च माह में कांग्रेस छोड़कर भाजपा में शामिल हो गये थे.

मध्यप्रदेश की 230 सदस्यीय विधानसभा में वर्तमान में भाजपा के 107, कांग्रेस के 87, बसपा के दो, सपा का एक और चार निर्दलीय विधायक हैं. 28 सीटों पर उपचुनाव की घोषणा होने के बाद दमोह से कांग्रेस के विधायक राहुल लोधी भी त्यागपत्र देकर भाजपा में शामिल हो गये. इससे बाद सदन की प्रभावी संख्या 229 के आधार पर सदन में साधारण बहुमत का जादुई आंकड़ा 115 का होता है.