Madhya Pradesh News: मध्य प्रदेश में एक तरफ तो कोरोना के मरीजों की संख्या घटने की खबर से राहत मिली है तो वहीं जबलपुर के मझगंवा के गिदुरहा व फनवानी गांव में कोरोना मरीजों की जबरदस्त लापरवाही सामने आई है. प्रशासनिक अधिकारी जब ग्रामीण क्षेत्रों में पहुंचे तो वहां देखकर हैरान रह गए, गांव में कोरोना से संक्रमित चार मरीज मजे से घूमते मिले. इस घटना के बाद मझगवां पुलिस ने बताया कि सिहोरा तहसीलदार रोकश चौरसिया ने चारों लापरवाह मरीजों की करतूत को लेकर लिखित प्रतिवेदन दिया था. Also Read - MP Unlock: शिवराज सरकार ने मध्यप्रदेश को कर दिया फुल अनलॉक, सब खुलेगा, बस लागू रहेंगी ये पाबंदियां, जानिए

उन्होंने बताया कि मझगवां में भ्रमण के दौरान कोरोना पाॅजिटिव रामकिशोर काछी एवं रामदास काछी निवासी गिदुरहा तथा लखन लाल एवं शीलकुमार निवासी खमरिया फनवानी घर से बाहर निकलकर घूम रहे थे. जबकि सभी को होम आइसोलेशन में रहने के निर्देश दिए गए थे. उनकी इस तरह की मनमानी के कारण क्षेत्र में कोरोना संक्रमण फैलने का खतरा बना है. चारों कोरोना मरीजों  के विरुद्ध धारा 188, 269, 270 एवं 51 आपदा प्रबंधन अधिनियम के तहत एफआइआर दर्ज की गई है. इस तरह से चारों मरीजों को अब सजा भी मिल सकती है. Also Read - Lockdown-Unlock Indore: इंदौर में खत्म हुआ लॉकडाउन, आज से खुल जाएंगे धर्मस्थल-होटल-मॉल, बंद रहेंगे स्कूल-कॉलेज और सिनेमाघर

इधर, बड़ी खुशखबरी है कि पूरे जबलपुर जिले में कोरोना मरीजों की संख्या तेजी से घटी है. वायरोलाॅजी लैब द्वारा जारी तीन हजार 505 सैंपल की रिपाेर्ट में जिलेभर में कोरोना संक्रमित 540 नए मरीज मिले हैं. जबकि इससे ज्यादा लोगों को संक्रमण मुक्त होने पर होम तथा संस्थागत आइसोलेशन से घर भेजा गया है. Also Read - Madhya Pradesh Lockdown Update: मध्यप्रदेश के मंत्री की गाड़ी में शराब पार्टी, VIDEO वायरल; कांग्रेस ने उठाए सवाल...

इस प्रकार जबलपुर जिले में कोरोना संक्रमित मरीजों की संख्या 43 हजार 993 हो गई है जिसमें 38 हजार 326 स्वस्थ हो चुके हैं. कोरोना संक्रमण से छह और मरीजों की जान गई जिसके बाद कुल मृतक संख्या बढ़कर 485 पहुंच गई है. जिले में कोरोना से रिकवरी की दर 87.11 फीसद है जबकि छह हजार तीन सक्रिय मरीज हैं. इनमें से तीन हजार 891 होम आइसोलेशन में उपचार करवा रहे हैं.