भोपाल: देशभर में लॉकडाउन 17 मई तक के लिए लागू है. इस कारण सभी राज्यों में धारा 144 लागू की गई है. इसी बीच मध्य प्रदेश के सागर जिले में इस नियम का उल्लंघन करते हुए कुछ लोग बंदा इलाके में इक्ट्ठा हो गए. यह भीड़ यहां जैन संत परमानसागर के स्वागत के लिए इक्ट्ठा हुई थी. एएसपी प्रवीण भूरिया ने कहा कि इस बाबत जांच के आदेश दे दिए गए हैं. साथ ही अगर सोशल डिस्टेंसिंग नियमों का उल्लंघन हुआ है और यदि धारा 144 का उल्लंघन किया गया है तो आयोजकों के खिलाफ कार्रवाई के निर्देश भी दिए गए हैं. Also Read - कांग्रेस के 200 कार्यकर्ता भाजपा में शामिल, कमल नाथ बोले, सोशल डिस्टेंसिंग क्यों नहीं?

बता दें कि देश में लॉकडाउन के कारण धारा 144 लागू किया गया है. इससे पहले भी कई बार एक ही जगह पर हजारों की संख्या में लोग इक्ट्ठा हो चुके हैं. वहीं कोरोना वायरस की बात करें तो मध्य प्रदेश में कोरोना वायरस का प्रकोप काफी तेजी से बढ़ता दिखाई दे रहा है. ऐसे में इस तरह भीड़ का इक्ट्ठा होना काफी नुकसानदायक साबित हो सकता है. Also Read - गौतमबुद्ध नगर में 31 मई तक बढ़ाई गई धारा 144 की अवधि, इन चीजों की होगी मनाही

मध्य प्रदेश में अबतक कोरोना के कुल 3986 मामले सामने आ चुके हैं. इनमें से 225 लोगों की मौत हो चुकी है वहीं 1860 लोगों को इलाज कर ठीक किया जा चुका है. बता दें कि मध्य प्रदेश की आर्थिक राजधानी इंदौर कोरोना का हॉटस्पॉट है. यहां बीते दिनों डॉक्टरों की टीम पर भीड़ ने पथराव भी किया था. वहीं मध्य प्रदेश में कोरोना वायरस की चपेट में आने से कई पुलिसकर्मियों की मौत भी हो चुकी है.