भोपाल: मध्य प्रदेश पुलिस ने वीजा नियमों का उल्लंघन करके भारत में तबलीगी जमात की धार्मिक गतिविधियों में हिस्सा लेने के लिए 60 से अधिक विदेशी नागरिकों को गिरफ्तार किया है. इससे पहले पुलिस ने प्रदेश की राजधानी भोपाल के विभिन्न पुलिस थानों में इन लोगों के खिलाफ सात मामले दर्ज किए थे. पुलिस ने बताया कि तबलीगी जमात के ये विदेशी सदस्य किर्गिस्तान, उज्बेकिस्तान, कजाखिस्तान, तंजानिया, दक्षिण अफ्रीका और म्यांमार के हैं. Also Read - Coronavirus in Indore News: हॉटस्पॉट इंदौर में संक्रमितों की संख्या 3,600 के पार, अब तक 145 मरीजों की मौत

भोपाल रेंज के पुलिस महानिरीक्षक (आईजी) उपेन्द्र जैन ने शनिवार बताया, ‘तबलीगी जमात के विदेशी सदस्यों के खिलाफ वीजा शर्तों के उल्लंघन के मामले दर्ज किये गये थे. वे देश में पर्यटक वीजा पर आए हैं जिससे तहत वे धार्मिक गतिविधियों में शामिल नहीं हो सकते हैं.’ उन्होंने कहा कि यह वीजा शर्तों का उल्लंघन है जो कि विदेशी अधिनियम के तहत अपराध है. इसलिए इनके खिलाफ मामले दर्ज किए गये. इन मामलों में इन विदेशी नागरिकों की गिरफ्तारी की गई है. जैन ने कहा कि आरोपियों को शुक्रवार को गिरफ्तार करके अदालत में पेश किया गया जहां इनकी जमानत अर्जी नामंजूर हो गई. Also Read - World Environment Day 2020: इन आइडियाज के साथ इस बार घर पर रहकर ही मनाएं विश्व पर्यावरण दिवस

एक अन्य अधिकारी ने बताया कि शहर के ऐशबाग, मंगलवार, श्यामला हिल्स, पिपलानी और तलैया पुलिस थानों में दर्ज सात मामलों के तहत 64 विदेशी नागरिकों को गिरफ्तार किया गया. इन आरोपियों को भादवि की धारा 188, धारा 269, धारा 270 तथा राष्ट्रीय आपदा प्रबंध अधिनियम तथा विदेशी अधिनियम की सम्बद्ध धाराओं में गिरफ्तार किया गया है. उन्होंने बताया कि इससे पहले इन तबलीगी जमात के विदेशी सदस्यों में से कुछ में कोरोना वायरस संक्रमण की पुष्टि होने के बाद उनका उपचार किया गया और शेष को पृथक करके रखा गया था. Also Read - कोरोना: भारत में एक दिन में सामने आए रिकॉर्ड मामले, संक्रमितों की संख्या 2 लाख सात हज़ार पार