Mahakaleshwar Temple: विश्व प्रसिद्ध उज्जैन स्थित महाकालेश्वर मंदिर (Mahakaleshwar Temple) में अगले सप्ताह से फिर से भस्म आरती में श्रद्धालु भाग ले सकेंगे. इस बात का निर्णय मंदिरि समिति द्वारा लिया गया है. बता दें कि करीब डेढ़ साल से मंदिर में भस्म आरती के दर्शन को लेकर मनाही है. ऐसे में अब समिति द्वारा यह फैसला लिया गया है कि 50 प्रतिशत क्षमता के साथ श्रद्धालुओं को मंदिर में प्रवेश दिया जाएगा ताकि वे भस्म आरती के दर्शन कर सकें.Also Read - Mahakaleshwar Temple Open News: महाकालेश्वर मंदिर में भक्तों को अब मिलेगी भस्म आरती में शामिल होने की अनुमति

बता दें कि भस्म आरती में श्रद्धालुओं का प्रवेश एक वर्ष, पांच महीने और 15 दिन से प्रतिबंधित है. हालांकि अगले सप्ताह से यह खुल जाएगा. महाकालेश्वर मंदिर में कोरोना के बाद से ही 17 मार्च 2020 से भस्म आरती में आम श्रद्धालुओं के प्रवेश पर प्रतिबंध लगा दिया गया था. गुरुवार के दिन उच्च शिक्षा मंत्री डॉ. मोहन यादव की अध्यक्षता में सर्किट हाऊस में प्रशासनिक अधिकारियों के साथ श्री महाकालेश्वर मंदिर में भस्म आरती में प्रवेश के संबंध में चर्चा की गई. Also Read - MP: COVID-19 संक्रमण के बीच मध्‍य प्रदेश के भोपाल, इंदौर में आज से लागू होगा नाइट कर्फ्यू, 8 शहरों में होगी सख्‍ती

बता दें कि सोमवार को निकलने वाली भगवान की शाही सवारी के बाबत भी इस बैठक में चर्चा की गई. चर्चा में निर्णय लिया गया कि अगले सप्ताह से भस्म आरती में श्रद्धालुओं को प्रवेश दिया जाएगा. मंदिर में इस दौरान केवल 50 प्रतिशत क्षमता के साथ मंदिर में प्रवेश ले सकते हैं. Also Read - Mahakal Temple Ujjain: उज्जैन के महाकाल मंदिर में मिलेगी ये सुविधा, आप भी ले सकते हैं फायदा

हालांकि श्रद्धालुओं को भस्म आरती में शामिल होने के लिए ऑनलाइन माध्यम से 100 रुपये की दान राशि का टिकट लेना होगा. इसके बाद ही एक साथ 50 फीसदी क्षमता के साथ एक साथ बैठकर लोग भस्म आरती में भाग ले सकेंगे.