भोपाल: मध्य प्रदेश में मंत्रिमंडल के गठन के बाद मंगलवार की देर रात एक और बड़ा प्रशासनिक फेरबदल किया गया है. कुल 16 भारतीय प्रशासनिक सेवा के अधिकारियों के तबादले हुए हैं. इस बदलाव में जिलाधिकारी को एक जिले से दूसरे जिले में भेजने की बजाय अन्य विभागों में पदस्थ किया गया है. इस बदलाव में किसी भी जिलाधिकारी को हटाकर दूसरे जिले का प्रभार नहीं दिया गया है. बता दें कि इससे पहले जिलाधिकारियों में हुए बदलाव के बाद सरकार कटघरे में आ गई थी और कांग्रेस के नेता खुद ही अपनी सरकार पर सवाल उठाने लगे थे.

एमपी: सीनियर IAS एसआर मोहंती को कैट का बड़ा झटका, सीएस बनने की राह में बड़ा रोड़ा

राज्य शासन द्वारा जारी आदेश के अनुसार, इंदौर के जिलाधिकारी निशांत बरवड़े, उमरिया के जिलाधिकारी मालसिंह भवडिया, नीमच जिलाधिकारी राकेश कुमार श्रीवास्तव, मंडला कलेक्टर अनय द्विवेदी, जिलाधिकारी राजगढ़ कर्मवीर शर्मा, जिलाधिकारी टीकमगढ़ अभिजीत अग्रवाल को हटा दिया गया है.

जारी आदेश के मुताबिक, बुरहानपुर का जिलाधिकारी उमेश कुमार, मंडला का जिलाधिकारी जगदीश चंद्र जटिया, झाबुआ का जिलाधिकारी प्रबल सिपाहा, उमरिया का जिलाधिकारी अमर पाल सिंह, टीकमगढ़ का जिलाधिकारी सौरभ कुमार सुमन, राजगढ़ का जिलाधिकारी निधि निवेदिता, सिवनी का जिलाधिकारी प्रवीण कुमार अढायच, नीमच का जिलाधिकारी राजीव कुमार मीणा को बनाया गया है.