भोपाल: मध्यप्रदेश में कोरोना संक्रमण के बढ़ते प्रभाव के कारण विधानसभा के मानसून सत्र को स्थगित करने का निर्णय सर्वसम्मति से सर्वदलीय बैठक में लिया गया है. बैठक के फैसले के आधार पर प्रभारी राज्यपाल आनंदी बेन पटेल को प्रस्ताव भेजा जाएगा. Also Read - Covid 19 Long Term Effects: शोध में हुआ खुलासा, कोरोना से उबर चुके लोगों को दिख रहे हैं ड्रिप्रेशन और थकान जैसे गंभीर लक्षण

मध्य प्रदेश विधानसभा का मानसून सत्र 20 जुलाई से शुरू होने वाला था. भोपाल में विधानसभा में सर्वदलीय बैठक के बाद स्‍थगित कर दिया गया है. बता दें कि मध्य प्रदेश में कोरोना वायरस संक्रमण के मामले 20,378 हो चुके हैं और राज्‍य में 689 लोगों की मौत हो चुकी है. Also Read - Viral Video: ना दो गज की दूरी- ना मास्क, साड़ी की दुकान पर भारी भीड़, IPS बोले- यहां तो कोरोना भी घुसने से डरेगा...

विधानसभा के प्रमुख सचिव ए. पी. सिंह ने शुक्रवार को बताया है कि कोरोना संक्रमण बढ़ने के कारण 20 जुलाई से होने वाले विधानसभा के मानसून सत्र को लेकर सर्वदलीय बैठक बुलाई गई थी, इस बैठक में निर्णय लिया गया है कि मानसून सत्र को स्थगित कर दिया जाए. सर्वदलीय बैठक में लिए गए निर्णय के इस प्रस्ताव को राज्यपाल को भेजा जाएगा.

बता दें राज्य का पांच दिवसीय मानसून सत्र 20 जुलाई से प्रस्तावित था. यह सत्र 24 जुलाई तक चलने वाला था. इसमें कुल पांच बैठकें होने वाली थीं.