मध्य प्रदेश (Madhya Pradesh) के गुना ज‍िले के एक गांव ( (village Of Guna)) में नदी में बाढ़ आने के कारण रात भर अपने घरों में फंसे रहे कम से कम 145 लोगों को बचाया गया. अधिकारियों ने शनिवार को बताया कि पार्वती नदी के किनारे वाले इलाके बाढ़ के कारण प्रभावित हुए.Also Read - शराब माफिया हमारे खिलाफ भयानक प्रचार अभियान छेड़ सकता है: उमा भारती

मध्य प्रदेश सरकार ने राज्य के गुना जिले (village Of Guna) के सुंडा गांव के लोगों को बचाने के लिए एक हेलीकॉप्टर और नौकाएं भेजीं. बचाए गए लोगों को राजस्थान के बारन जिले के चाबरा गांव में ले जाया गया. Also Read - यूपी: गणेश प्रतिमा विसर्जन के दौरान नदी में बहे पांच लोग, एक शव बरामद

बारन के पुलिस अधीक्षक विनीत बंसल ने कहा कि सुंडा गांव के करीब 145 लोग शुक्रवार रात से ही नदी के बाढ़ के पानी में फंसे हुए थे. Also Read - बीडी शर्मा, शिवराज सिंह चौहान को 15 जनवरी तक का समय देती हूं, शराब पर प्रतिबंध नहीं लगाया तो सड़क पर उतर जाऊंगी: उमा भारती

गुना के जिलाधिकारी और पुलिस अधीक्षक शुक्रवार रात को ही चाबरा पहुंच गए और बचाव अभियान के लिए वहीं रहे. राष्ट्रीय आपदा मोचन बल और राज्य आपदा राहत बल की मदद से बचाव अभियान चलाकर लोगों को बचा लिया गया. यह बचाव अभियान सुबह आठ बजे शुरू हुआ और करीब सात घंटे तक चला. हेलीकॉप्टर और नौकाओं की मदद से लोगों को बचा लिया गया.