MPBSE Latest News: देश भर में कोरोना वायरस के चलते 2 महीने से अधिक समय से लॉकडाउन जारी है. जिसके चलते शॉपिंग मॉल, सिनेमा हॉल, पर्यटन स्थल से लेकर बच्चों के स्कूल-कॉलेज तक पर ताला लगा था. ऐसे में बोर्ड के एग्जाम्स दे रहे बच्चों के पेपर भी टल गए. हाल ही में केंद्र सरकार ने लॉकडाउन 5 के तहत नियमों में कुछ छूट दी है. ऐसे में अब देश की शिक्षा व्यवस्था भी पटरी में लौटने लगी है. करीब 2 महीने से अटकी एमपी बोर्ड (MP Board 12th Exam 2020) की परीक्षा भी वापस शुरू होने जा रहा है. 12वीं की परीक्षा को लेकर बोर्ड ने कई दिशा निर्देश जारी किए हैं, जिनका छात्रों को पालन करना अनिवार्य होगा. इन नियमों का पालन ना करने पर छात्रों को परीक्षा में बैठने की अनुमति नहीं दी जाएगी. Also Read - मध्य प्रदेश में बोर्ड परीक्षाएं के पैटर्न में होंगी पांचवीं और आठवीं की परीक्षा

कोरोना वायरस के चलते शिक्षा विभाग 9 जून से शुरू होने वाली एमपी बोर्ड की 12 वीं की परीक्षा में शामिल होने वाले छात्रों को लेकर नए दिशा निर्देश जारी किए हैं. जिसके तहत परीक्षा में बैठने वाले छात्रों की परीक्षा केंद्र में थर्मल स्क्रीनिंग होगी. इसके लिए छात्रों को परीक्षा से 1 घंटे पहले परीक्षा केंद्र पहुंचना होगा. स्क्रीनिंग के दौरान अगर किसी भी छात्र का तापमान अधिक होगा, तो उन्हें केंद्र में बनाए गए आईसोलेशन रूम बैठाया जाएगा और यहीं से उन्हें परीक्षा दिलाई जाएगी. Also Read - MPBSE 10th & 12th Supplementry Result 2019: मध्यप्रदेश बोर्ड ने 10वीं और 12वीं कक्षा की सप्लीमेंट्री परीक्षा का परिणाम जारी किया, यहां चेक करें रिजल्ट और मार्क्स

शिक्षा विभाग द्वारा जारी निर्देशों के अनुसार 12वीं की परीक्षा में कंटेनमेंट जोन में रहने वाले छात्र भी शामिल हो सकेंगे. लेकिन, इसके लिए उन्हें कोरोना के चलते शिक्षा विभाग द्वारा दिए दिशा-निर्देशों का पालन करना जरूरी होगा. अगर कोई भी छात्र इन नियमों को मानने से इनकार करता है तो उसके खिलाफ कार्रवाई की जा सकती है और परीक्षार्थी को परीक्षा में शामिल होने से भी रोका जा सकता है. बता दें भोपाल में 12वीं की परीक्षा के लिए 97 परीक्षा केंद्र बनाए गए हैं. Also Read - MPBSE: MP Board Class 10th, 12th Timetable 2019: बोर्ड एग्जाम का शेड्यूल जारी, mpbse.nic.in पर चेक करें टाइमटेबल