छतरपुर: मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराजसिह चौहान गुरुवार की रात अपनी जन आशीर्वाद यात्रा के दूसरे दिन चंदला में आमसभा के बाद मंच से उतरते वक्त फिसल गए और गिर पड़े. उन्हें कार्यकर्ताओं और सुरक्षाकर्मियों ने संभाला. उसी समय भीड़ ने पंडाल के भीतर कुर्सियां उछालनी शुरू कर दी.

चौहान गुरुवार को पन्ना से चलकर छतरपुर जिले में पहुंचे. कई स्थानों पर रथ और मंच सभाएं करने के बाद चंदला पहुंचे. यहां उनकी सभा खत्म हुई और वे जैसे ही उतरने लगे, उनका सीढ़ियों पर से पैर फिसल गया और वे मंच पर ही गिर गए. उनके गिरते ही आसपास चल रहे कार्यकर्ता और सुरक्षाकर्मी हरकत में आए और उन्हें उठाया.

एमपी: दिग्विजय सिंह ने शिवराजसिंह चौहान से कहा, देशद्रोही बताया है तो 26 को दूंगा गिरफ्तारी

जिलाधिकारी रमेश भंडारी ने बताया कि मंच से उतरते समय मुख्यमंत्री चौहान एक की जगह एक साथ दो सीढ़ियां उतर गए, जिससे उन्हें असहजता हुई और फिसल गए. मंच पर गिरने जैसी कोई बात नहीं है. वहीं दूसरी ओर, सभा में मौजूद भीड़ ने पंडाल के भीतर कुर्सियां उछालना शुरू कर दी. यह सिलसिला काफी देर तक चला.

बुंदेलखंड को अलग राज्‍य बनाने की मांग पकड़ रही जोर, मध्‍यप्रदेश के चुनावी घोषणा पत्र में शामिल हो मुद्दा’

मुख्यमंत्री चौहान दो दिवसीय बुंदेलखंड की जन आशीर्वाद यात्रा पर थे. वे बुधवार को दमोह और पन्ना जिले की विधानसभाओं में गए और गुरुवार को छतरपुर की विधानसभाओं में सभाएं की.