भोपालः मध्यप्रदेश में महिला सुरक्षा और विपरीत हालत में महिलाओं की मदद करने के मकसद से पुलिस ने ‘एमपी ई-कॉप’ नाम का मोबाइल एप लॉन्च किया है. इस एप के जरिए महिलाएं एक साथ डायल 100 सहित अन्य स्थानों को अपना संदेश भेज सकेंगी और इसके जरिए उन्हें समय पर मदद मिल सकेगी.

राज्य सरकार और पुलिस महिला अपराध पर नियंत्रण पाने के लिए लगातार प्रयास कर रही है, उसी क्रम में मोबाइल एप तैयार किया गया है. इस एप के जरिए महिलाएं किसी भी विषम स्थिति में तुरंत मदद हासिल कर सकती हैं. इस एप के जरिए गुमशुदा व्यक्ति की तलाश, चोरी गए वाहनों की शिकायत के अलावा किरायेदारों का सत्यापन भी किया जा सकेगा.

भोपाल के पुलिस उपमहानिरीक्षक इरशाद वली के मुताबिक, इस एप में कई तरह की सुविधाएं हैं, संबंधित व्यक्ति अपनी शिकायत दर्ज करा सकता है, महिला संबंधी जानकारी दे सकते हैं, इसके अलावा अन्य सूचना भी दे सकते हैं. इसके अलावा इसमें एक एसओएस सुविधा है, जिसमें आप बटन को दबाएंगे तो अलार्म बजेगा, अगर आपने चार नंबर दबाया तो आपका संदेश चार जगह जाएगा. यह संदेश डायल 100 को जाएगा, साथ ही आपके लोकेशन की जानकारी भी पहुंच जाएगी. इससे पता चल जाएगा कि आप मुसीबत में हैं.

एक तरफ पत्नी तो दूसरी तरफ साली को बैठाकर रचाई शादी, पति बोला- बीवी जब है राजी तो उसने कहा हां जी

पुलिस अधिकारियों का कहना है कि इस एप को बनाने का मकसद लोगों और खासकर महिलाओं को जल्दी सुरक्षा मुहैया कराने के साथ उनकी मदद करना है. इस एप के जरिए आम जन गोपनीय सूचना भी पुलिस को दे सकेंगे.

इस एप को लेकर महिलाएं खुश हैं. एक गृहिणी अर्चना त्रिपाठी का कहना है कि अगर इस एप पर पुलिस ठीक तरह से काम करती है तो यह महिलाओं के लिए मील का पत्थर साबित होगा. ऐसा इसलिए, क्योंकि महिलाओं के लिए आपातस्थिति में सबसे बड़ी समस्या यह होती है कि वे सबसे पहले किसे सूचित करें, अपने पति, भाई या पुलिस को?

इस एप की खूबी यह है कि इस एप के जरिए आपके चार परिचितों और डायल 100 को संदेश मिल जाएगा. इससे चार में से किसी न किसी के सक्रिय होने की संभावना बढ़ जाती है.