भोपाल: मध्य प्रदेश के दो विधानसभा सीटों पर हो रहे उपचुनाव में प्रचार अंतिम दौर में है. सत्ताधारी भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) और कांग्रेस के नेता एक-दूसरे पर हमले कर रहे. मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान पांच साल का विकास पांच माह में करने का वादा कर रहे हैं, तो दूसरी ओर ज्योतिरादित्य सिंधिया ने मुख्यमंत्री चौहान को घोषणावीर बताया. राज्य के शिवपुरी जिले के कोलारस और अशोकनगर के मुंगावली विधानसभा सीटों के लिए उपचुनाव का प्रचार जोरों पर है. दोनों स्थानों पर भाजपा व कांग्रेस के नेता डेरा डाले हुए हैं. आलम यह है कि हर दूसरे गांव में 100 से 500 मतदाताओं के बीच नेता सभाएं कर रहे हैं. Also Read - MP: रात के अंधेरे में कुंए में SUV गिरने से पुलिस-इंस्‍पेक्‍टर और सिपाही की मौत, सुबह गांव वाले खेत पहुंचे तो पता चला

Also Read - Sidhi Bus Accident: 51 मौतें के बाद एक्शन, CM शिवराज सिंह चौहान ने RTO, MPRDC मैनेजर, AGM समेत 4 को सस्‍पेंड किया

मुख्यमंत्री शिवराजसिंह चौहान ने बुधवार को अपनी सभाओं में कहा, लोकतंत्र में चुनाव जनता की भलाई और विकास के लिए होता है. भाजपा सरकार ने पूरे प्रदेश में विकास की गंगा बहाई है, लेकिन मुंगावली क्षेत्र में विधायक भी कांग्रेस के थे और सांसद तो कई वर्षो से कांग्रेस के हैं. उन्होंने मुंगावली के विकास में कोई रुचि नहीं ली. जिसके कारण मुंगावली विधानसभा क्षेत्र विकास की दौड़ में पिछड़ गया है. भाजपा सरकार पांच महीने में पांच साल का कार्य मुंगावली में पूरा करेगी. Also Read - Sidhi Bus Accident Latest Updates: MP के Sidhi में बस हादसे में मृतकों की संख्‍या 51 हुई, CM मृतकों के परिवारों से मिले

मुख्यमंत्री ने कहा, कांग्रेस के जमाने में प्रदेश में सड़कें नहीं होती थीं. हमने प्रदेश में सड़कों का जाल बिछाया. अनेक विकास के काम भाजपा कर रही है, लेकिन कांग्रेस के लोग विकास के काम रुकवाने का षड्यंत्र रचते हैं. कांग्रेस नेता ज्योतिरादित्य सिंधिया ने शिवराज के भाषणों की खिल्ली उड़ाई। उन्होंने अपनी सभाओं में कहा, राज्य के मुख्यमंत्री घोषणावीर हैं. उन्होंने अबतक न जाने कितनी घोषणाएं इस क्षेत्र के लिए की, मगर पूरी एक भी नहीं हुई.

राज्य की पूरी सरकार इस इलाके में डेरा डाले हुए है, मतदाताओं से तमाम वादे किए जा रहे हैं. सड़क-सड़क और गांव-गांव में बड़े-बड़े नेता घूमने को मजबूर हैं. यहां के मतदाता वास्तविकता को जानते हैं. भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष व सांसद नंदकुमारसिंह चौहान ने मुंगावली में कई जनसभाओं को संबोधित करते हुए कहा, आपके वोट में क्षेत्र का विकास छिपा हुआ है. आप भाजपा प्रत्याशी बाईसाहब को वोट देकर मुंगावली क्षेत्र के विकास का रास्ता खोलें.

मुख्य सचिव के निचले होंठ पर चोट के निशान थे: मेडिकल रिपोर्ट

मुख्य सचिव के निचले होंठ पर चोट के निशान थे: मेडिकल रिपोर्ट

भाजपा उपाध्यक्ष व सांसद प्रभात झा एवं जिलाध्यक्ष जयकुमार सिंघई के नेतृत्व में भाजपा प्रतिनिधिमंडल ने मुंगावली विधानसभा उपचुनाव के केन्द्रीय पर्यवेक्षक राजेश कुमार को ज्ञापन सौंपा. ज्ञापन में कहा गया है कि मुंगावली विधानसभा उपचुनाव में कांग्रेस पार्टी पूरी तरह आचार संहिता का उल्लंघन कर रही है. कोलारस में मंत्री नरोत्तम मिश्रा ने जलाभिषेक यात्राओं और आम सभाओं के माध्यम से आम जनता के बीच जन संवाद एवं जनसंपर्क किया. उन्होंने कहा, हमने कोलारस क्षेत्र के विकास के लिए गुंजारी नदी को जीवित करने का प्रयास किया.

कांग्रेस के प्रदेशाध्यक्ष अरुण यादव ने भी कई चुनावी सभाओं को संबोधित किया. उन्होंने मतदाताओं से कांग्रेस के पक्ष में मतदान की अपील की, और प्रदेश की भाजपा सरकार की जनविरोधी नीतियों को कोसा. यादव ने कहा, भाजपा राज में लोकतंत्र की हत्या की जा रही है. भाजपा की मंत्री यशोधरा राजे मतदाताओं को धमकी दे रही हैं. वह कह रही हैं कि कांग्रेस को वोट दिया तो उनका हुक्का-पानी और सारी सरकारी सुविधाएं बंद कर दी जाएंगी.

भाजपा की दूसरी मंत्री मायासिंह ने क्षेत्र के मतदाताओं को धमकाते हुए कहा कि यदि भाजपा के उम्मीदवार को वोट नहीं दिया तो न तो तुम्हें मकान मिलेगा, न गैस का कनेक्शन, न कन्यादान योजना के लाभ और न ही बच्चों की शिक्षा-दीक्षा का लाभ. विधानसभा में नेता प्रतिपक्ष अजय सिंह ने कहा, चित्रकूट के बाद मुंगावली और कोलारस विधानसभा उपचुनाव में मुख्यमंत्री चौहान के विकास के दावों की पोल खुल गई है. मुख्यमंत्री ने कोलारस विधानसभा उपचुनाव में प्रचार का जो तरीका अपनाया है, उसने प्रचार के स्तर को तो गिराया ही है, साथ ही यह भी बताया है कि वह यहां की जनता से विकास नहीं, दया के आधार पर वोट चाहते हैं.

उन्होंने मुख्यमंत्री के उस बयान पर प्रतिक्रिया जाहिर की, जिसमें चौहान ने कहा था कि छह माह के लिए वोट दे दो. सिंह ने कहा, यह मुख्यमंत्री की गरिमा के प्रतिकूल है. 13 साल के मुख्यमंत्री जो प्रदेश को बीमारू राज्य से बाहर करने और विकास के तमाम दावे करता हो, वह इस स्तर पर वोट मांग रहे हैं तो इससे स्पष्ट है कि विकास की ढोल में पोल है.