Top Recommended Stories

एमपी: लव अफेयर में विवाद, पुलिस इंस्पेक्टर ने महिला एएसआई को मारी गोली, फिर कर ली सुसाइड

मध्यप्रदेश के इंदौर में लव अफेयर के विवाद में एक पुलिस इंस्पेक्टर ने महिला एएसआई को गोली मरने के बाद खुद को गोली मारकर सुसाइड कर ली

Published: June 24, 2022 7:30 PM IST

By India.com Hindi News Desk | Edited by Laxmi Narayan Tiwari

15-Year-Old Boy Falls To Death From 7th Floor Flat Of Gurugram Society
15-Year-Old Boy Falls To Death From 7th Floor Flat Of Gurugram Society

इंदौर: मध्यप्रदेश के इंदौर में प्रसंग से जुड़े विवाद में आज शुक्रवार को एक पुलिस इंस्पेक्टर ने महिला एएसआई को गोली मरने के बाद खुद को गोली मारकर सुसाइड कर ली. सनसनीखेज गोलीबारी में घायल महिला एएसआई इंदौर के पुलिस विभाग के कार्यालय में पदस्थ है, जबकि उसे गोली मारकर सुसाइड करने वाला इंस्पेक्टर भोपाल में ]पदस्थ था. अस्पताल में भर्ती कराई गई महिला एएसआई की हालत खतरे से बाहर है.

पुलिस नियंत्रण कक्ष परिसर में एक पुलिस निरीक्षक ने प्रसंग से जुड़े विवाद में आज शुक्रवार को महिला सहायक पुलिस निरीक्षक (एएसआई) को गोली मारने के बाद आत्महत्या कर ली. घटना के एक वीडियो में गोलीबारी के बाद पंवार का शव पुलिस नियंत्रण कक्ष परिसर में जमीन पर पड़ा नजर आ रहा है और इसके आस-पास काफी खून दिखाई दे रहा है. अन्य वीडियो में घायल एएसआई उसके कान से बह रहे खून को अपने हाथ से रोकने की कोशिश करते हुए दर्द से चिल्लाती नजर आ रही है और उसके साथी पुलिसकर्मी उससे पूछ रहे हैं कि उसे किसने गोली मारी?

You may like to read

पुलिस आयुक्त हरिनारायणचारी मिश्रा ने संवाददाताओं को बताया कि पुलिस निरीक्षक हाकम सिंह पंवार ने रीगल चौराहा स्थित पुलिस नियंत्रण कक्ष परिसर में अचानक हुए विवाद के बाद अपनी सरकारी पिस्तौल से एक महिला सहायक उप निरीक्षक को गोली मारी. पुलिस आयुक्त ने बताया कि इसके फौरन बाद पंवार ने अपने सिर पर गोली दागकर आत्महत्या कर ली.

पुलिस आयुक्त ने बताया,दोनों पुलिस कर्मियों ने तात्कालिक विवाद से पहले पुलिस नियंत्रण कक्ष परिसर के एक कॉफी हाउस में कॉफी भी पी थी. उनके बीच विवाद की असल वजह अभी पता नहीं चल सकी है, लेकिन पहली नजर में सामने आए तथ्य इशारा करते हैं कि इस झगड़े की जड़ में प्रेम प्रसंग है. मिश्रा ने बताया कि सनसनीखेज गोलीबारी में घायल एएसआई इंदौर में पुलिस के दफ्तरी काम-काज से जुड़े विभाग में पदस्थ है, जबकि पंवार भोपाल में तैनात थे.

पुलिस आयुक्त ने बताया,नजदीकी अस्पताल में भर्ती कराई गई महिला एएसआई की हालत खतरे से बाहर है. उससे पूछताछ के बाद स्पष्ट हो सकेगा कि पुलिस निरीक्षक से उसका किस बात को लेकर झगड़ा हुआ था.

चश्मदीदों के मुताबिक दोनों पुलिसकर्मी गोलीबारी से पहले, पुलिस नियंत्रण कक्ष परिसर में बातचीत कर रहे थे. घटनाक्रम के बाद इस परिसर में तमाशबीनों की भीड़ लग गई और पुलिस के आला अफसरों ने मौके पर पहुंचकर मुआयना किया.


महाराजा यशवंतराव चिकित्सालय के अधीक्षक प्रमेंद्र ठाकुर ने बताया कि अस्पताल लाए जाने से पहले ही पंवार की मौत हो चुकी थी और उनके शव का पोस्टमॉर्टम कराया जा रहा है. उन्होंने बताया,”गोलीबारी में महिला एएसआई को कान में चोट आई है. पहली नजर में लगता है कि गोली उसके कान को छूती हुई गुजर गई.”

टीआई हाकम सिंह की तैनाती भोपाल के श्यामला हिल्स थाने में 6 फरवरी 2022 को हुई थी. उज्जैन के तराना के रहने वाले हाकम सिंह भोपाल के खटलापुरा इलाके में किराए के फ्लैट में अकेले रहते थे. टीआई हाकम सिंह21 जून को तीन दिन की छुट्टी लेकर गए थे और गुरुवार को उन्हें जॉइन करना था. वहीं, घायल एसआई रंजना खरगोन जिले की मूल निवासी हैं. वह इंदौर के पुलिस कंट्रोल रूम में पदस्थ थीं. (इनपुट भाषा)

Also Read:

ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज अपडेट के लिए हमें फेसबुक पर लाइक करें या ट्विटर पर फॉलो करें. India.Com पर विस्तार से पढ़ें India Hindi की और अन्य ताजा-तरीन खबरें

By clicking “Accept All Cookies”, you agree to the storing of cookies on your device to enhance site navigation, analyze site usage, and assist in our marketing efforts Cookies Policy.

?>