Balika Diwas 2021: बालिका दिवस पर पंख अभियान का शुभारंभ करने के बाद सीएम शिवराज सिंह चौहान ने कहा कि इस अभियान से बेटियों को पंख लगेंगे. सीएम शिवराज सिंह चौहान ने इस मौके पर साहसी बेटियों को सम्मानित भी किया और कार्यक्रम के दौरान विभिन्न जिलों में बने वन स्टॉप सेंटर के नवनिर्मित भवनों और 44 जिलों के 501आंगबाड़ी भवनों का लोकार्पण भी किया. Also Read - मध्यप्रदेश: कोरोना टीके की दूसरी खुराक लेने के कुछ घंटे बाद ही महिला की मौत

बेटियों को आर्थिक रूप से सशक्त बनाने के लिए सीएम शिवराज सिंह चौहान ने लक्ष्मी लाडली योजना के अंतर्गत 26,000 से अधिक छात्राओं के खाते में छात्रवृत्ति और पीएम मातृवंदना योजना के अंतर्गत 45,000 से अधिक महिलाओं के खातों में मातृत्व सहायता की राशि ट्रांसफर की है. बता दें कि कार्यक्रम की शुरुआत सीएम ने कन्या पूजन के साथ की. Also Read - MP Viral Video: व्यापारी के घर पर बेखौफ फायरिंग करते दिखे बदमाश, इलाके में दहशत

बेटियों के खिलाफ अपराध करने वाले लोगों को चेतावनी देते हुए सीएम ने कहा है कि लातों के भूत बातों से नहीं मानते. मुझे किसी भी परिणा की चिंता नहीं है. मैं समाज के दुश्मनों और नरपिशाचों को समाप्त करके ही चैन की सांस लूंगा. हमें बेटियों के लिए कांटों से मुक्त मार्ग का निर्माण करना है. मुझे अपनी बहनों और बेटियों की जिंदगी सुरक्षित करना है. वे आर्थिक रूप से सशक्त हों और दासी के रूप में अपना जीवन न गुजारें. उन्हें सम्मान अधिकार मिलें. Also Read - MP के गुना में गर्भवती महिला को डंडों से मारा...पीटा..कंधे पर लड़के को बैठाकर 3 किमी तक घुमाया और...

सीएम ने कहा कि हमने आज पंख अभियान का शुभारंभ किया है, जो बेटी बचाओ अभियान का ही अंश है. उन्होंने पंख का मतलब भी समझाया है, P-प्रोटेक्शन, A-अवेयरनेस, N- न्यूट्रीशन, K- नॉलेज और H- हेल्थ। इसी से प्रदेश में बेटियों का विकास होगा.