भोपाल: उत्तर प्रदेश में बीजेपी के विधायक राजेश कुमार मिश्रा की बेटी के अंतर्जातीय विवाह का मामला मीडिया में सुर्खियां बनने पर मध्य प्रदेश विधानसभा में नेता प्रतिपक्ष गोपाल भार्गव ने समाचार माध्यमों पर तंज कसा है. उन्होंने रविवार को कहा कि “सोशल मीडिया और समाचार चैनलों पर आधुनिक लैला-मजनू की कहानियां दिखाने से देश में भ्रूणहत्याएं बढ़ेंगी.” भार्गव के इस बयान की कांग्रेस ने निंदा की है. भार्गव ने एक के बाद एक ट्वीट कर कहा, “सोशल मीडिया और कथित राष्ट्रीय समाचार चैनल उनके तनखैया एंकरों द्वारा अपनी टीआरपी बढ़ाने और रुपया कमाने की लालसा में आधुनिक लैला-मजनू को दिखाकर उनके दुखी पिता और परिवार का मजाक बनाया जा रहा है, जिसे लोग आनंद से देख रहे हैं.”

भार्गव ने दूसरे ट्वीट में लिखा, “मेरे निजी विचार से ये चैनल अपनी टीआरपी बढ़ाने और रुपया कमाने के चक्कर में बहुत बड़ा समाज विरोधी एवं राष्ट्र विरोधी कार्य कर रहे हैं. उनके इस कृत्य से अब यह बात तय है कि देश में पिछले एक दशक से चल रहा ‘बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ’ योजना एवं राष्ट्रीय अभियान 50 वर्ष पीछे चला जाएगा.”

उन्होंने तीसरे ट्वीट में लिखा, “मेरा मानना है कि ऐसी खबरों से अब कन्या भ्रूणहत्या की घटनाएं देश में अप्रत्याशित रूप से बढ़ेंगी तथा महिला पुरुष के लिगानुपात में भारी अंतर आएगा, जो हमें अगले तीन वर्षो में सामाजिक सर्वे में स्पष्ट रूप से दिखेगा. नर्सिंग होम एवं निजी अस्पतालों में गर्भपात का गोरखधंधा खूब फलेगा फूलेगा.”

भार्गव ने चौथे ट्वीट में समाचार माध्यमों पर तंज सकते हुए कहा, “धन्य हैं ऐसे समाज सुधारक खबरिया एवं राष्ट्रीय समाचार चैनल और उनके एंकर. अब टीवी और मोबाइल भारतीय परिवारों के लिए अभिशाप बनते जा रहे हैं. समय रहते समझदार लोग इस अभिशाप से मुक्ति पाएं, तभी परिवार सुखी रहेगा.”

भार्गव ने पांचवें ट्वीट में इन प्रतिक्रियाओं को निजी विचार बताते हुए कहा, “देश के एक आम नागरिक के रूप में ये मेरे निजी विचार हैं. अनेक व्यक्ति या समाचार माध्यम इससे असहमत भी हो सकते हैं, जो स्वाभाविक है. यदि उनको मेरे इन विचारों से कष्ट पहुंचा हो तो उसके लिए मुझे क्षमा करें.”

सत्तारूढ़ कांग्रेस ने नेता प्रतिपक्ष भार्गव के बयान की निंदा की है. प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष कमलनाथ के मीडिया समन्वयक नरेंद्र सलूजा ने कहा, “भार्गव की यह सोच मोदी के नए भारत के निर्माण के खोखलेपन की अभिव्यक्ति है. भाजपा को युवाओं के वोट तो चाहिए, लेकिन वे उन्हें उस काल में ले जाने को मजबूर कर रहे हैं, जहां कुरीतियों से जकड़ा समाज, हर स्तर पर प्रगति में बाधक था. भाजपा को स्पष्ट करना चाहिए कि वह भार्गव के विचार से सहमत है या नहीं.”

उत्तर प्रदेश के बरेली से भाजपा विधायक राजेश कुमार मिश्रा की बेटी साक्षी ने पिछले दिनों अंतर्जातीय विवाह किया. बाद में साक्षी ने सोशल मीडिया पर वीडियो जारी कर अपनी जान को पिता से खतरा बताया है. यह मामला मीडिया की सुर्खियां बना हुआ है.