भोपाल: मध्य प्रदेश में कांग्रेस प्रदेश कमेटी के अध्यक्ष कमलनाथ ने बीजेपी के डीएनए पर सवाल उठाते हुए दावा किया है कि इसमें खोट है. एमपीपीसी प्रेसिडेंट ने अपनी पार्टी कांग्रेस और बीजेपी के डीएनएन में अंतर बताते हुए कहा, ” कांग्रेस की नीति है. संविधान है, नीयत है, वे (बीजेपी) बोल सकते हैं, बात कर सकते हैं, भाषण दे सकते हैं, उनके (बीजेपी) डीएनए में खोट है. ये बात हमें जनता तक पहुंचाना है. बता दें कि राजनीति में डीएनए की चर्चा तब खूब हुई थी, जब जुलाई 2015 में बिहार में जेडीयू-आरजेडी गठबंधन पर पीएम नरेन्द्र मोदी ने मुजफ्फरनगर में आयोजित परिवर्तन रैली के दौरान कहा था कि नीतीश कुमार के पोलिटिकल डीएनए में कुछ गड़बड़ है.

कमलनाथ ने ये बात शुक्रवार को भोपाल में राज्यसभा सदस्य राजमणि पटेल की 40 दिन की कमलनाथ सत्ता बदलो- संविधान बचाओ यात्रा की समाप्ति पर कही. प्रदेश कांग्रेश अध्यक्ष ने राज्य की बीजेपी सरकार पर हमला करते हुए कहा कि समाज का हर वर्ग परेशान है. कांग्रेस की सरकार बनने पर समाज के सभी वर्गों के हितों की रक्षा की जाएगी.

कमलनाथ ने एमपी की शिवराज सरकार की मुख्यमंत्री संबल योजना के प्रचार-प्रसार पर किए जा रहे खर्च पर सवाल उठाए हैं. उन्होंने कहा कि करोड़ों रुपए सम्मेलनों पर खर्च किए जा रहे हैं. सरकारी खजाने को खाली किया जा रही है. उन्होंने कहा कि सरकारी अधिकारी कर्मचारियों को इन सम्मेलनों में भीड़ जुटाने के लिए टारगेट दिया जा रहा है. अगर यही पैसा इन पर खर्च किया जाता तो उनका उत्थान हो जाता. कमलनाथ ने कहा कि ये बात हमें जनता तक पहुंचाना है. (इनपुट- एजेंसी)