भोपाल: मध्यप्रदेश के बड़वानी जिले में देर रात एक युवक को धर्म परिवर्तन कराने के जुर्म में गिरफ्तार कर लिया गया है. 25 वर्षीय युवक की गिरफ्तारी नवगठित एमपी फ्रीडम ऑफ रिलीजन ऑर्डिनेंस 2020 के तहत की गई है. इस अध्यादेश के आने के बाद यह पहला मामला है जब धर्म परिवर्तन के आरोप में किसी को गिरफ्तार किया गया है. बता दें कि इस कानून के तहत अगर धर्मपरिवर्तन कराने के लिए मजबूर किया जाता है तो 10 साल की सजा का प्रावधान है. Also Read - MP: रात के अंधेरे में कुंए में SUV गिरने से पुलिस-इंस्‍पेक्‍टर और सिपाही की मौत, सुबह गांव वाले खेत पहुंचे तो पता चला

बता दें कि मध्यप्रदेश पुलिस ने सोहेल मंसूरी नाम के युवक को सोमवार के दिन नई अध्यादेश और धारा 376, 323 और 506 के तहत गिरफ्तार किया है. इसमें बलात्कार, चोट पहुंचाने और अपराधिक धमकी के मामले भी दर्ज किए गए हैं. बड़वानी पुलिस थाना के प्रभारी राजेश यादव ने इस बाबत कहा कि पीड़ित महिला ने रविवार को पुलिस में शिकायत दर्ज कराई थी कि सोहेल ने 4 साल पहले खुद को सनी बताकर महिला से मुलाकात की थई और अपना धर्म छिपाकर शादी के बहाने उससे बलात्कार किया था. Also Read - खुद ही कपड़े उतारकर फेंके, न्यूड होकर सड़क किनारे लेटी, लड़की ने ऐसे रची अपने रेप की साजिश, अब...

थाना प्रभारी ने बताया कि 2 साल पहले महिला को सोहेल की असलियत का पता और लेकिन आरोपी ने पीड़िता से वादा किया कि वह उसे धर्म परिवर्तन करने के लिए दबाव नहीं बनाएगा और उससे शादी कर लेगा. लेकिन हाल ही में पीड़िता को बता चला कि सोहेल शादीशुदा और एक बच्चे का बाप है. सोहेल उसे धोखा दे रहा था. हालांकि जब पीड़िता ने विरोध किया तो सोहेल ने उसकी पिटाई कर दी. इसी की शिकायत महिला ने पुलिस से की जिसके बाद पुलिस ने नए अध्यादेश व अन्य मामलों के तहत सोहेल को गिरफ्तार कर लिया है. Also Read - फल तोड़ने गई 8 साल की बच्ची के साथ पूर्व सरपंच ने किया ऐसा काम, हाल देख दंग रह गए लोग, अब...