भोपाल: मध्य प्रदेश के सहकारिता विभाग के संदर्भ में सूचना के अधिकार (आरटीआई) के तहत मांगी जाने वाली जानकारी का ब्यौरा अब ऑनलाइन मिलेगा. इतना ही नहीं ऑनलाइन आवेदन की स्थिति की जानकारी भी मिलेगी. आधिकारिक तौर बुधवार को दी गई जानकारी में बताया गया है कि सूचना का अधिकार अधिनियम-2005 के अंतर्गत सहकारिता विभाग में प्राप्त आवेदनों के निराकरण का ब्यौरा ऑनलाइन प्राप्त किया जा सकेगा. इसके लिए मुख्यालाय स्तर पर एक सॉफ्टवेयर तैयार किया गया है. नए कैलेन्डर वर्ष से सॉफ्टवेयर का कार्य शुरू भी हो गया है.

जानकारी के अनुसार, सहकारिता विभाग में ‘आरटीआई एप्लीकेशन मॉनिटरिंग एण्ड ट्रेकिंग स्सिटम’ के माध्यम से सूचना के अधिकार के अंतर्गत मिले आवेदनों का कार्य संचालन करने के निर्देश, सभी संभागों के संयुक्त आयुक्तों और समस्त प्रशासन, अंकेक्षण उपायुक्त और सहायक आयुक्त को दिए गए हैं.

सहकारिता एवं पंजीयक आयुक्त केदार शर्मा ने इस संबंध में सभी संबंधित अधिकारियों को नए सॉफ्टवेयर के उपयोग के लिए विस्तृत दिशानिर्देश भेजे हैं. आवेदनों के पंजीयन और कार्यालय में प्राप्त होने की सूचना आवेदक के मोबाइल नंबर और ईमेल आईडी पर दी जाएगी.