सबलगढ़ (मध्यप्रदेश): कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने मंगलवार को कहा कि ‘मैं प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का विरोध करना छोड़ दूंगा, यदि वह (मोदी) देश को बांटने का काम करना बंद दें.’ विधानसभा चुनाव प्रचार के दौरान राहुल ने यहां एक जनसभा में कहा कि ‘किसी ने भाषण में कल बोला कि राहुल गांधी नरेंद्र मोदी के सामने खड़ा है, विरोध करता है. और मैंने वहां पर बोला, देखिए, मैं नरेंद्र मोदी जी का सिर्फ विरोध नहीं करता हूं, उसका कारण है.’ ‘जिस दिन नरेंद्र मोदीजी ने किसानों की मदद करनी शुरू कर दी, जिस दिन मोदीजी ने छोटे दुकानदार, मजदूर एवं गरीब की मदद करनी शुरू कर दी, जिस दिन देश को बांटने का काम करना बंद कर दिया, उस दिन मैं नरेंद्र मोदी का विरोध नहीं करूंगा.’

राहुल ने कहा कि ‘मगर जब तक नरेंद्र मोदीजी हिंदुस्तान के सबसे अमीर 15-20 लोगों का काम करेंगे और जिस दिन तक मोदी न्याय की बात नहीं करेंगे, किसान का कर्जा माफ नहीं करेंगे, मजदूर के साथ नहीं खड़े होंगे तो बाकी हिंदुस्तान कुछ भी कहें, राहुल गांधी उनके सामने विरोध करता हुआ दिखाई देगा, क्योंकि मैं समझता हूं आप लोगों ने इस देश को यहां तक पहुंचाया है.’ उन्होंने आरोप लगाया कि प्रधानमंत्री मोदी ने स्वतंत्रता दिवस पर लाल किले की प्राचीर से दिए अपने भाषण में यह बोल कर देश के पूर्वजों का अपमान किया है कि उनके प्रधानमंत्री बनने से पहले देश में 70 साल तक कोई काम नहीं हुआ है.

बता दें कि राहुल गांधी मध्य प्रदेश में 29 नवंबर को होने वाले विधानसभा चुनाव के लिए प्रचार में लगे हुए हैं. पीएम मोदी व केंद्र सरकार पर वह लगातार हमले कर रहे हैं. एक दिन पहले वह दतिया जिले के पीताम्बरा मंदिर पहुंचे थे. यहां उन्होंने इस प्रसिद्ध मंदिर में पूजा अर्चना की थी. इस दौरान पत्रकारों से बात करते हुए उन्होंने केंद्र सरकार की नीतियों की आलोचना थी. राहुल ने चुनाव प्रचार के दौरान राफेल डील में घोटाले की बात बार-बार कही है.