सतना: केंद्र सरकार द्वारा एससी-एसटी एक्ट में किए गए संशोधन का मध्यप्रदेश में सवर्णों द्वारा विरोध प्रदर्शन का दौर जारी है. मंगलवार को सतना जिले में सड़कों पर उतरे सवर्ण समाज के लोगों ने यातायात बाधित कर दिया. पुलिस ने प्रदर्शनकारियों को सड़क से हटाने की कोशिश की, जब सफलता नहीं मिली तो लाठीचार्ज कर दिया.Also Read - MP Panchayat Chunav: मध्‍य प्रदेश में पंचायत चुनाव का ऐलान, तीन चरण में होंगे, यहां सभी जरूरी जानकारी जानें

Also Read - MP: शख्‍स ने अपनी पत्‍नी को गिफ्ट में दिया अनोखा 'ताजमहल', फोटोज में देखें खूबसूरती

मध्य प्रदेश: SC/ST एक्ट में संशोधन के विरोध में बीजेपी नेता ने दिया इस्तीफा Also Read - Omicron Threat: बोत्सवाना से जबलपुर आई महिला की तलाश कर रहे हैं एमपी के अफसर

पुलिस पर बरसाए पत्थर

लाठीचार्ज में कई प्रदर्शनकारियों को चोटें आई हैं. प्रदर्शनकारियों ने भी पुलिस पर पत्थर बरसाए. मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान सतना जिले में पिछड़ा वर्ग सम्मेलन में हिस्सा लेने पहुंचे थे. यहां सवर्ण समाज के प्रतिनिधि हाथों में काले झंडे लेकर सड़क पर उतरे. इससे रीवा की ओर जाने वाले मार्ग पर कई घंटे तक जाम लगा रहा और वाहनों की कई किलोमीटर लंबी कतारें लग गईं. प्रदर्शनकारी केंद्र सरकार द्वारा एससी-एसटी एक्ट में किए गए संशोधन से नाराज थे और सीएम शिवराज सिंह चौहान के सभास्थल की ओर बढ़ना चाहते थे.

यूपी में एससी-एसटी एक्ट को लेकर सवर्ण संगठनों का प्रदर्शन, वाराणसी में चक्‍काजाम व आगजनी

तनावपूर्ण स्थिति

सड़क पर उतरे प्रदर्शनकारियों को पुलिस ने चारों ओर से घेरते हुए उन्हें हटाने की कोशिश की. पुलिस प्रदर्शनकारियों को आगे नहीं बढ़ने दे रही थी. इस पर पुलिस और प्रदर्शनकारियों में झड़प भी हुई. पुलिस ने प्रदर्शनकारियों को खदेड़ते हुए जमकर लाठीचार्ज किया. इस लाठीचार्ज में कई प्रदर्शनकारियों को चोटें आईं. वहीं, कई प्रदर्शनकारियों ने पुलिस जवानों पर पत्थर फेंके. इसके बाद कई घंटों तक स्थिति तनावपूर्ण बनी रही.