नई दिल्ली: मध्य प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री और बीजेपी के सीनियर नेता बाबू लाल गौर कांग्रेस के टिकट पर लोकसभा चुनाव लड़ सकते हैं. कांग्रेस की ओर से मिले ऑफर पर बीजेपी के सीनियर नेता ने कहा कि वह विचार कर रहे हैं. मीडिया में खबर चल रही थी कि कांग्रेस के सीनियर नेता और पूर्व मुख्यमंत्री दिग्विजय सिंह ने बाबू लाल गौर को कांग्रेस के टिकट पर भोपाल से चुनाव लड़ने का ऑफर दिया है. इस पर प्रतिक्रिया देते हुए बाबू लाल गौर ने कहा कि दिग्विजय सिंह मेरे पास आए थे. उन्होंने कांग्रेस के टिकट पर चुनाव लड़ने का ऑफर दिया है. मैंने उनसे कहा कि मैं इस बारे में विचार करूंगा. गौर ने दावा किया कि चुनाव से पहले कई उठापटक होने वाले हैं.

प्रियंका गांधी की अधिकारिक तौर पर राजनीति में एंट्री पर गौर ने कहा कि यह कांग्रेस के लिए अच्‍छा हो सकता है, लेकिन उन्होंने कहा कि उनके आने से किसका फायदा और किसका नुकसान होगा यह कहना जल्दबाजी होगी.

बता दें कि मध्यप्रदेश विधानसभा चुनाव के लिए मतदान के बाद गौर का एक वीडियो वायरल हुआ था जिसे गौर एक कांग्रेस नेता के साथ दिखे थे और उन्हें जीत की बधाई दे रहे थे. साथ उन्होंने कहा था कि अगली सरकार में उस कांग्रेस नेता को मंत्री पद मिलने जा रहा है. यह तब की बात है जब रिजल्ट नहीं आया था. बाबूलाल गौर के विद्रोही तेवर को देखते हुए भाजपा को उनकी बहू को टिकट देना पड़ा था.

बुलडोजर मैन’ के नाम से मशहूर गौर मुख्यमंत्री कमलनाथ के संसदीय क्षेत्र छिंदवाड़ा की तारीफ कर चुके हैं. हालांकि विवाद के बाद उन्होंने कहा था कि ‘मैंने छिंदवाड़ा के विकास की जरूर तारीफ की थी. वह विकास भी तब से हुआ, जब मैं मध्यप्रदेश का मंत्री था. मैंने वर्ष 1990-91 में पूरे प्रदेश में शहरों के विकास के लिए अतिक्रमण को हटाने के लिए एक अभियान चलाया था. इसके तहत अतिक्रमण तोड़ने के लिए बुलडोजर चलाया था. उन्होंने था कहा कि इसी के कारण न केवल छिंदवाड़ा बल्कि प्रदेश के अन्य शहरों में अच्छी सड़के बनीं और अन्य अधोसंरचनाओं का विकास हुआ.