नई दिल्ली: कुछ घंटे पहले सात फेरे हुए, विदाई हुई. दुल्हन दूल्हे के साथ कार में थी. तभी उल्टी आने की बात कहकर अचानक नदी के पुल पर कार रोकने को कहा. जैसे ही कार रुकी, दुल्हन ने कार का दरवाज़ा खोला और पुल से नदी में छलांग लगा दी. इससे पहले कि दूल्हा और बाकी लोग कुछ समझ पाते, दुल्हन नदी में समा गई. दुल्हन का शव 48 घंटे की मशक्कत के बाद निकाल किया गया है. शव 50 फीट की गहराई से निकाला गया. लाल जोड़े में लिपटा दुल्हन का शव देख लोगों के होश उड़ गए हैं. Also Read - शादी के दिन मेकअप कराने गई दुल्हन, मौके पर पहुंचे प्रेमी ने 'सनम बेवफा' कहा और फिर...

सुबह हुई थी विदाई
मामला मध्य प्रदेश के श्योपुर जिले का है. यहाँ के अल्लापुर के रहने वाले रामप्रसाद सैनी की बेटी अंजू की शादी शनिवार को हुई. कोरोना के चलते शादी में कुछ ही लोग शामिल हुए थे. शनिवार देर रात शादी की रस्में हुईं और एकदम सुबह विदा हुई. बरात श्योपुर जिले से ही आई थी. दुल्हन विदा होकर दूल्हे के साथ कार में निकली. कार चम्बल नदी के पुल पहुंची तभी दुल्हन ने कहा कि उसे उल्टी आ रही है. ड्राईवर ने पुल पर कार रोकने से इनकार किया, इस पर दुल्हन ने कहा कि जल्दी रोको, उल्टी बहुत तेज़ है. और ड्राईवर का हाथ पकड़ लिया. इस पर ड्राईवर को कार रोक देनी पड़ी. Also Read - ट्रेन के सामने कूदी महिला और उसकी दो बच्चियों की मौत, ट्रैक पर खेलता मिला एक साल का मासूम

कार का दरवाज़ा खोला और…
इतने में दुल्हन ने कार का दरवाज़ा तेजी से खोला और पुल से नदी में छलांग लगा दी. दूल्हा व कार में बैठे कुछ अन्य लोग समझ भी नहीं पाए. दूल्हे के अनुसार, दुल्हन अंजू पहले नदी में नीचे चली गई, फिर एक बार ऊपर आई. और फिर समा गई. किसी को तैरना नहीं आता था, इसलिए इतनी ऊंचाई से नदी नहीं कूदा. Also Read - बेटी को नींद की दवाई देकर पिता ने किया दुष्कर्म, पीड़िता ने टॉयलेट क्लीनिंग पीकर आत्महत्या करने का किया प्रयास

ऐसा क्यों हुआ, सब हैरत में
सूचना मिलने पर पहुंची पुलिस ने कोशिशों के बाद जब शव नहीं निकाल पाया तो बचाव दल एसडीआरएफ की मदद ली गई. इस टीम ने कड़ी मेहनत के बाद शव तलाश लिया. 48 घंटे बाद 50 फीट की गहराई से शव निकाला गया. श्योपुर पुलिस ने बताया कि घटना की जांच की जा रही है कि आखिर ऐसा क्यों हुआ. वहीं, परिजनों का कहना है कि पूरी शादी और विदाई के दौरान दुल्हन अंजू परेशान नहीं थी, बल्कि खुश थी. उसने ऐसा क्यों किया, ये किसी को भी समझ नहीं आ रहा है.