भोपाल: मध्य प्रदेश में शिवराज सिंह चौहान (Shivraj Singh Chouhan) के नेतृत्व वाली भाजपा (BJP) नीत सरकार के मंत्रिमंडल का बहुप्रतीक्षित विस्तार रविवार को किया गया, जिसमें भाजपा नेता ज्योतिरादित्य सिंधिया (Jyotiraoditya Scindia) समर्थक दो विधायकों को कैबिनेट मंत्री के तौर पर शपथ दिलाई गई.Also Read - रणजी ट्रॉफी जीतकर इतिहास रचने वाली मध्य प्रदेश की टीम का नागरिक अभिनंदन होगा, CM ने किया ऐलान

मंत्रिमंडल के इस तीसरे विस्तार में तुलसीराम सिलावट एवं गोविन्द सिंह राजपूत को फिर से मंत्री बनाया गया। ये दोनों चौहान के मंत्रिमंडल में पहले भी कैबिनेट मंत्री रह चुके हैं. राज्यपाल आनंदीबेन पटेल ने मंत्रिमंडल विस्तार के लिए यहां राजभवन में आयोजित संक्षिप्त समारोह में इन दोनों को मंत्री पद एवं गोपनीयता की शपथ दिलाई. Also Read - इंदौर में 50 मीटर गहरी खाई में गिरी यात्रियों से भरी बस, 6 लोगों की मौत, कई घायल

इन दोनों को पिछले साल 21 अप्रैल को भी मंत्रिमंडल में शामिल किया गया था, लेकिन तब वे विधायक नहीं थे। इसके चलते उन्हें पिछले साल तीन नवंबर में हुए 28 विधानसभा सीटों के उपचुनाव से ठीक पहले संवैधानिक बाध्यता के कारण मंत्री के तौर पर छह माह पूरे होने से एक दिन पहले इस्तीफा देना पड़ा था. Also Read - Encounter in MP: एनकाउंटर में महिला नक्सली समेत तीन ढेर, पुलिसकर्मियों को प्रमोशन और गैलेंट्री आवार्ड मिलेगा

पिछले साल तीन नवंबर को हुए उपचुनाव में अपनी-अपनी सीट जीतकर अब ये दोनों विधायक बन गये हैं और इसलिए इन्हें फिर से मंत्रिमंडल में शामिल किया गया है. शपथ ग्रहण समारोह में कोविड-19 को लेकर दिशा-निर्देशों का पालन किया गया. इस अवसर पर मुख्यमंत्री चौहान, प्रदेश विधानसभा के प्रोटेम स्पीकर रामेश्वर शर्मा एवं कई अन्य मंत्री मौजूद थे.