भोपाल: मध्यप्रदेश के नीमच में चाय बेचने वाले की बेटी आंचल गंगवाल (24) भारतीय वायुसेना में फ्लाइंग ऑफिसर बन गईं हैं. आंचल के पिताजी सुरेश गंगवाल मध्यप्रदेश की राजधानी भोपाल से करीब 400 किलोमीटर दूर नीमच में बस स्टैंड पर पिछले करीब 25 साल से एक छोटी सी चाय की दुकान चलाते हैं. Also Read - Indian Air Force Recruitment 2021: 10वीं, 12वीं पास के लिए वायुसेना में निकली बंपर वैकेंसी, जल्द करें आवेदन, मिलेगी अच्छी सैलरी

सुरेश गंगवाल ने सोमवार को बताया, ‘वर्ष 2013 में उत्तराखंड के केदारनाथ में आई भीषण त्रासदी के बाद वायुसेना के कर्मचारी बहादुरी से वहां लोगों की मदद करने में लगे थे. इसे आंचल ने देखा था और तब से ही फ्लाइंग ऑफिसर बनने का सपना देखा था, जो अब साकार हुआ है.’ उन्होंने कहा कि अपने सपने को साकार करने के लिए आंचल ने किताबें एकत्र कीं और परीक्षा की तैयारी शुरू कर दी. सुरेश ने बताया कि आंचल छठे प्रयास में इस परीक्षा को पास करने में सफल रही. Also Read - भारत सरकार ने ऑक्सीजन संकट से निपटने के लिए वायुसेना, रेलवे को उतारा; गृह मंत्रालय ने राज्यों को दिए सख्त निर्देश

उन्होंने कहा, ‘मैं पिछले करीब 25 साल से चाय की दुकान चलाता हूं. इसलिए कोई भी मेरी आर्थिक स्थिति के बारे में समझ सकता है कि यह कैसी है?’ हाई स्कूल पास सुरेश ने बताया, ‘कई बार मेरे पास अपनी बेटी की स्कूल या कॉलेज की फीस भरने के लिए पैसे भी नहीं होते थे. कई बार मैंने लोगों से उधार लेकर उसकी फीस भरी.’ Also Read - Indian Air Force Recruitment 2021: भारतीय वायुसेना में इन 1524 पदों पर निकली वैकेंसी, 10वीं, 12वीं पास जल्द करें आवेदन   

उन्होंने कहा कि उसका फ्लाइंग ऑफिसर बनना हमारे लिए गर्व की बात है. मध्यप्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने ट्वीट किया, ‘नीमच में चाय की दुकान लगाने वाले सुरेश गंगवाल जी की बेटी आंचल अब वायुसेना में फाइटर प्लेन उड़ाएगी. मध्यप्रदेश को गौरवान्वित करने वाली बेटी आंचल अब देश के गौरव और सम्मान की रक्षा के लिए अनंत आकाश की ऊंचाइयों में उड़ान भरेगी. बेटी को बधाई, आशीर्वाद और शुभकामनाएं.’