रैना: मध्यप्रदेश में एक टीचर ने अपनी हवस का शिकार 16 की बेटी को बनाता रहा और इससे भी ज्‍यादा शर्मनाक यह है कि वहसी शिक्षक का साथ उसकी पत्‍नी भी देती थी. यह मामला राज्‍य के मुरैना जिले कहा है. 55 साल के एक शिक्षक ने अपनी 16 वर्षीय बेटी के हाथ-पैर बांधकर रेप किया है. Also Read - Coronavirus in Indore News: हॉटस्पॉट इंदौर में संक्रमितों की संख्या 3,600 के पार, अब तक 145 मरीजों की मौत

रिश्‍तों को तार-तार करने देने वाला यह रेप का मामला मुरैना जिले के पोरसा कस्बे का है. इस घटना में इस शिक्षक की पत्नी भी आरोपी की मदद करती थी. पुलिस ने आरोपी दंपति को गिरफ्तार कर लिया है. घर के बाहर किसी को पता न चले, इसलिये इस दंपति ने पीड़ित बेटी को घर में ही कैद कर दिया था. Also Read - Cyclone Nisarga: अब मध्य प्रदेश के लोग हो जाएं सावधान, तूफान दे सकता है दस्तक, घरों में रहने की अपील, अलर्ट

एसडीओपी अवनीश बंसल ने गुरुवार को बताया कि इस घटना की प्राथमिक जांच में तथ्य सामने आने पर पुलिस ने आरोपी शिक्षक एवं उसकी पत्नी पर मामला दर्ज कर मंगलवार को गिरफ्तार कर लिया है. उन्होंने कहा कि बुधवार को पीड़िता एवं उसके आरोपी पिता दोनों की मेडिकल जांच भी करायी गई है. Also Read - बीजेपी विधायक ने मजदूरों की वापसी के लिए सोनू सूद से मांगी मदद, मिला ऐसा जवाब

एसडीओपी बंसल ने बताया कि घर के बाहर किसी को पता न चले, इसलिए इस दंपति ने पीड़ित बेटी को घर में ही कैद कर दिया था. उन्होंने कहा कि परेशान किशोरी ने अपनी विवाहिता बड़ी बहन को इस बारे में सोमवार को बताया, जिसके बाद बड़ी बहन ने इसकी शिकायत चाइल्ड हेल्पलाइन पर की. वहां से आये सदस्यों ने किशोरी को मंगलवार को कैद से छुड़ाकर पुलिस को सूचना दी, जिसके बाद पुलिस ने पति-पत्नी को हिरासत में लेकर गंभीर पूछताछ कर गिरफ्तार किया.

एसडीओपी बंसल ने बताया कि पीड़िता ने अपनी शिकायत में कहा है कि उसका शिक्षक पिता उससे दो बार 26 मार्च एवं 10 अप्रैल को दुष्कर्म कर चुका है और दुष्कर्म करने से पहले उसके हाथ-पैर बांध दिए गए थे. शिकायत के अनुसार पीड़ित किशोरी की मां भी आरोपी की मदद करती थी और उसे घर में कैद कर रखते थे.

पीड़िता ने बताया कि दुष्कर्म का विरोध करने पर आरोपी उसे नंगा कर देते थे और मारपीट करते थे. उन्होंने कहा कि पीड़िता के शरीर पर काटने के निशान भी दिखाई दे रहे हैं.

इस बारे में मुरैना कलेक्टर प्रियंका दास ने कहा, ‘शिक्षक द्वारा अपनी ही पुत्री के साथ दुष्कर्म किए जाने की घटना शर्मनाक है.’ उन्होंने कहा, ‘प्रशासन आरोपी पर कानूनी कार्रवाई करने में कोई ढिलाई नहीं बरतेगा. नियम के अनुसार शिक्षक को शीघ्र निलंबित किया जाएगा, क्योंकि उसने शिक्षक के पद की गरिमा के विरुद्ध कृत्य किया है.’