Madhya Pradesh Crime News: मध्यप्रदेश के उमरिया जिले में 13 साल की एक बच्ची के साथ हैवानियत की खबर सुनकर आपके रोंगटे खड़े हो जाएंगे. उस 13 साल की मासूम के साथ पांच दिनों में दो बार सामूहिक बलात्कार किया गया और उसे धमकी दी गई कि वो अपनी जुबान खोलेगी तो जान से मार देंगे. इस तरह के घिनौने अपराध राज्य बढ़ते जा रहे हैं. बता दें कि राज्य में महिलाओं के खिलाफ अपराध को लेकर जन-जागरूकता अभियान चल रहा है. Also Read - Madhya Pradesh News: नक्सली हमले में जवान शहीद, मुख्यमंत्री शिवराज सिंह ने किया एक करोड़ की मदद का एलान

घटना उमरिया जिले की है जहां 4 जनवरी को उमरिया में 13 साल की बच्ची का उसके जानने वाले एक युवक ने अपहरण कर लिया, फिर उसने हैवानियत की हद पार करते हुए अपने छह दोस्तों के साथ दो दिनों तक उसका बलात्कार किया. फिर सबने 5 जनवरी को पीड़ित को रिहा कर दिया और साथ ही ये  धमकी भी दी कि अगर उसने इस बारे में किसी को बताया तो उसे जान से मार देंगे. Also Read - MP के इन दो बड़े शहरों में अगले तीन में कम नहीं हुए कोरोना के केस तो फिर 8 मार्च से...

इसके बाद 11 जनवरी को पहली वारदात में शामिल एक आरोपी ने उसे फिर से अगवा किया और उसे सड़क किनारे एक ढाबे में ले गया. वहां उसने तीन लोगों के साथ मिलकर फिर उसका बलात्कार किया. Also Read - Supreme Court On Rape Case: नाबालिग लड़की से Rape के आरोपी से सुप्रीम कोर्ट ने पूछा, क्या पीड़िता से करोगे शादी? जानें पूरा मामला..

शुक्रवार को पुलिस को इस घटना की सूचना दी गई, जिसके बाद पुलिस की कई टीमों ने आरोपियों की तलाशी शुरू की. उमरिया पुलिस के पीआरओ अरविंद तिवारी ने बताया कि “हमने अब तक 6 आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया है और मामले के शेष आरोपियों को जल्द पकड़ने की उम्मीद है. यह मामला पोस्को और आईपीसी की संबंधित धाराओं के तहत पंजीकृत है.”

बता दें कि इससे पहले 9 जनवरी की देर रात राज्य के सीधी जिले में एक 48 वर्षीय विधवा महिला के साथ उसकी झोपड़े में चार लोगों ने बलात्कार किया था. मामले के मुख्य आरोपी ने विधवा के निजी अंगों में कथित तौर पर एक लोहे की रॉड भी डाल दी थी. दो दिन बाद 11 जनवरी की सुबह, 13 साल की लड़की का उसके किराना व्यापारी पड़ोसी ने अपहरण कर लिया,बलात्कार किया और बाद में हत्या कर दी. इस तरह की घटनाएं लगातार बढ़ती जा रही हैं.