भोपाल: मध्य प्रदेश के राज्यपाल लालजी टंडन के अवकाश पर होने के कारण उत्तर प्रदेश की राज्यपाल आनंदी बेन पटेल को राज्य का अतिरिक्त प्रभार सौंपा गया है. टंडन पिछले कुछ दिनों से बीमार है और उनका लखनऊ में इलाज चल रहा है. गौरतलब है कि अगले दो दिनों में मध्य प्रदेश में मंत्रिमंडल के विस्तार होने को लेकर चर्चा तेज है. वहीं मध्यप्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान भी दिल्ली में पार्टी के शीर्ष अधिकारियों से मिलने पहुंचे हैं. Also Read - शिवराज मंत्रिमंडल का हो गया विस्तार, 20 कैबिनेट और 8 राज्यमंत्री शामिल

बता दें कि राष्ट्रपति राम नाथ कोविंद ने रविवार को संविधान के अनुच्छेद 185 और 160 के तहत मिली शक्तियों का उपयोग करते हुए उत्तर प्रदेश की राज्यपाल आनंदी बेन पटेल को राज्यपाल लालजी टंडन के अवकाश पर होने के कारण उनकी अनुपस्थिति में मध्य प्रदेश के राज्यपाल के पद के दायित्वों का निर्वहन करने की जिम्मेदारी सौंपी है. Also Read - क्या ज्योतिरादित्य सिंधिया के खेमे से होगा अगला उपमुख्यमंत्री? जानें इस रेस में कौन है सबसे आगे

राज्य में सियासी गतिविधियों के बीच उत्तर प्रदेश की राज्यपाल को मध्य प्रदेश का प्रभार सौंपे जाने को काफी अहम माना जा रहा है, क्योंकि आगामी एक-दो दिन में राज्य के मंत्रिमंडल के विस्तार की चर्चा है. मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान दिल्ली में हैं. इस दौरान शिवराज सिंह चौहान पार्टी के शीर्ष नेताओं जैसे- जेपी नड्डा, अमित शाह, ज्योतिरादित्य सिंधिया, बीएल संतोष से मिलेंगे. वहीं प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से भी शिवराज सिंह चौहान मुलाकात कर सकते हैं. Also Read - आज होगा शिवराज मंत्रिमंडल का विस्तार, असंतोष को दबाने की कवायद शुरू

(इनपुट-आईएएनएस)