राजगढ़: मध्यप्रदेश के राजगढ़ जिले के छापीहेड़ा थाने के पुलिसकर्मियों को बामन गांव में ग्रामीणों ने आंखों में मिर्ची पाउडर डाल कर जमकर पीटा और दो पुलिसकर्मियों को बंधक भी बना लिया. घटना में 6 पुलिसकर्मी घायल हो गए हैं जबकि गांव की एक महिला ने पुलिसकर्मियों पर छेड़छाड़ का आरोप लगाया है. जिला पुलिस अधीक्षक प्रदीप शर्मा ने कहा कि पुलिसकर्मियों और पीड़ित महिला के बयान के आधार पर जांच के बाद दोषियों के खिलाफ कार्रवाई की जाएगी.

छापीहेड़ा पुलिस थाने के प्रभारी निरीक्षक वीरेन्द्र धाकड़ ने बताया कि रविवार देर शाम पुलिस को सूचना मिली कि एक टेम्पो ट्रेक्स अवैध शराब लेकर जा रही है, इस पर पुलिस दल ने उसका पीछा किया तो वाहन चालक ने टक्कर मारकर एक पुलिसकर्मी को घायल कर दिया.

उन्होंने बताया कि इसके बाद पुलिस दल वाहन का पीछा करते हुए बामन गांव में गया. गांव में ग्रामीणों ने पुलिस दल को घेरकर उनकी आंखों में मिर्ची पाउडर फेंक दिया और पुलिसकर्मियों की वर्दी फाड़कर उनकी जमकर पिटाई की. धाकड़ ने बताया कि पिटाई में छापीहेड़ा थाने के 6 पुलिसकर्मीयों को गम्भीर चोटें आई हैं. दूसरी ओर ग्रामीणों ने दो पुलिसकर्मियों को बंधक बना लिया है .

हालांकि, ग्रामीणों का आरोप है कि छापीहेड़ा पुलिस गांव में एक आरोपी को ढूंढने उसके घर पहुंची, घर में उसकी बहन अकेली थी, अकेली बहन को देखकर पुलिस वालों ने उसे थाने चलने को कहा और थाने का कहकर पुलिस वाले उसे पुलिस वाहन से ले गए और दूर सोनखेड़ा गाँव के समीप ले जाकर सूनसान स्थान पर दो पुलिसकर्मियों ने महिला के साथ छेड़छाड़ की.

धाकड़ ने बताया कि पुलिस ने 15 लोगों के खिलाफ आईपीसी और लोकसेवा अधिनियम की सम्बद्ध धाराओं में मामला दर्ज किया है. इसके साथ ही महिला की शिकायत पर एक पुलिसकर्मी के खिलाफ भी आईपीसी की संबद्ध धारा में मामला दर्ज किया गया है और विस्तृत जांच की जा रही है.