Viral Video: देश में कोरोना की दूसरी लहर का कहर जारी है. बेकाबू हो चुके कोरोना पर काबू पाने के लिए कई राज्यों में लॉकडाउन जैसी पाबंदियां लागू हैं. इस दौरान इस जरूरी सेवाओं को इजाजत दी गई है. किसी भी तरह से सामाजिक जमावड़े की अनुमति नहीं है. हालांकि शादी और अंतिम संस्कार को लेकर शर्तों के साथ छूट है. शादियों और अंतिम संस्कारों में ज्यादा से ज्यादा कितने लोग शामिल हो सकते हैं इसे लेकर राज्य सरकारों की तरफ से अलग-अलग दिशा निर्देश जारी है. मध्यप्रदेश भी कोरोना से बेहाल है. यहां भी हर दिन 11-12 हजार नए मामले सामने आ रहे हैं.Also Read - Dadi Ka Video: 80 साल की दादी को फिटनेस चैलेंज देकर फंस गया पोता, दिखा ऐसा नजारा होश उड़ गए | देखिए वीडियो

मध्यप्रदेश के रतलाम से एक अनोखी शादी का वीडियो सामने आया है. यहां दूल्हा-दुल्हन दोनों ने PPE किट पहनकर सात फेरे लिए हैं. न्यूज एजेंसी ANI की तरफ से जारी वीडियो में देखा जा सकता है कि दूल्हा और दुल्हन पीपीई किट में फेरे ले रहे हैं. साथ में मौजूद दो तीन लोगों ने भी पीपीई किट पहन रहा है. Also Read - Bride Groom Video: विवाह के बीच घर जाने की जल्दी करने लगे पंडितजी, फिर दूल्हा-दुल्हन से जो कहा सोच नहीं सकते | देखिए ये वीडियो

Also Read - Dulhan Ka Video: मंडप में ही खुशी से उछड़ पड़ी दुल्हन, फिर दूल्हे को देखकर किया ऐसा डांस बार-बार देखेंगे | देखिए ये वीडियो

दरअसल शादी से पहले दूल्हे की कोविड-19 रिपोर्ट पॉजिटिव आ गई. रतलाम के तहसीलदार नवीन गर्ग न्यूज एसेंजी ANI से बात करते हुए कहा कि 19 अप्रैल को दूल्हे की कोविड रिपोर्ट पॉजिटिव आई. हम यहां शादी को रुकवाने के लिए पहुंचे थे, लेकिन जब शादी करवाने के लिए निवेदन किया गया तो सीनियर अधिकारियों की देखरेख में विवाह को संपन्न करवाया गया. इस दौरान नवदंपत्ति को पीपीई किट्स पहनाए गए ताकि संक्रमन फैलने का खतरा न रहे. शादी का वीडियो सोशल मीडिया पर भी वायरल हो रहा है.

बता दें कि कोरोना काल में पहले भी ऐसी कई अनोखी शादियां हमें देखने को मिली हैं. एक दिन पहले ही केरल के अलप्पुझा में ऐसी ही एक शादी देखने को मिली थी. जहां, दुल्हन बनी लड़की हॉस्पिटल पहुंची और कोरोना से संक्रमित अपने दूल्हे से पीपीई किट पहनकर शादी की. दुल्हन को कोरोना मरीज दूल्हे ने मंगलसूत्र पहनाया. दोनों ने एक दूसरे को तुलसी की माला पहनाई. इस विशेष शादी के लिए अधिकारियों ने विशेष अनुमति दी थी.