Omicron positive Cases, Maharashtra, COVID19: ओमिक्रॉन के बढ़ते खतरे के बीच महाराष्ट्र में कोरोना वायरस के ओमीक्रोन स्वरूप से संक्रमित लोगों का आंकड़ा 10 है. राज्‍य के कई एयरपोर्ट्स पर हजारों लोगों की कोविड-19 की स्‍क्रीनिंग करने के बाद ये मामले सामने आए हैं. बता दें कि भारत में अभी ओमिक्रॉन के 21 केस मिल चुके हैं.Also Read - बीसीसीआई ने बदले भारत-वेस्टइंडीज वनडे, टी20 सीरीज के वेन्यू, देखें नया शेड्यूल

राज्य के स्वास्थ्य निगरानी अधिकारी डॉ प्रदीप आवटे ने कहा, कई हवाई अड्डों पर COVID19 के लिए लगभग 30,000 यात्रियों की जांच की गई. 10 लोगों अब तक Omicron के परीक्षण में पॉजिटि‍व निकले हैं. कोविड दिशानिर्देशों का पालन करने और वैक्सीनेशन पूरा कराने के लिए लोगों को प्रेरित किया जा रहा है. Also Read - School/College Closed In UP: उत्तर प्रदेश में सभी शैक्षणिक संस्थान 30 जनवरी तक रहेंगे बंद, आदेश जारी

Also Read - UPTET 2021: कोरोना संक्रमित अभ्यर्थी दे सकेंगे यूपीटीईटी परीक्षा, अलग से होगी व्यवस्था

बता दें कि मुंबई में पिछले महीने विदेश से लौटे दो व्यक्ति कोरोना वायरस के ओमीक्रोन स्वरूप से संक्रमित पाए गए थे. महाराष्ट्र की राजधानी में वायरस के इस नए स्वरूप ये पहले मामले थे. राज्य में अब इस स्वरूप से कुल मामले बढ़कर 10 हो गए हैं. बृहन्मुंबई महानगर पालिका की ओर से कल सोमवार को जारी विज्ञप्ति में कहा गया था. कि दक्षिण अफ्रीका से लौटा एक व्यक्ति अमेरिका से लौटे एक अन्य व्यक्ति के संपर्क में था और दोनों की जांच में ओमीक्रोन पाया गया है. बताया गया कि इन दोनों व्यक्ति कोविड-19 रोधी टीके की दोनों खुराक ले चुके हैं.

महाराष्ट्र ने निजी प्रयोगशाला में आरटी-पीसीआर जांच कराने के शुल्क में संशोधन किया
महाराष्ट्र सरकार ने निजी प्रयोगशालाओं में कोविड-19 की आरटी-पीसीआर पद्धति से की जाने वाली जांच के शुल्क में संशोधन किया है. स्वास्थ्य मंत्री राजेश टोपे ने सोमवार को बताया कि केंद्र पर जाकर नमूना देने पर जांच का शुल्क 350 रुपए होगा. उन्होंने ट्विटर पर बताया कि अस्पतालों, कोविड देखभाल केंद्रों और पृथक केंद्रों पर परीक्षण का शुल्क 500 रुपए होगा. मंत्री ने कहा कि अगर घर जाकर शख्स का नमूना लिया जाता है, तो आरटी-पीसीआर जांच का शुल्क 700 रुपए होगा. उन्होंने कहा, कोई भी निजी प्रयोगशाला इससे ज्यादा शुल्क नहीं मांग सकती है.