नई दिल्‍ली: वैश्विक कोरोना वायरस की महामारी के संकट के बीच कई लोग मानवता के दूत बनकर सामने आ रहे हैं. ऐसा ही कुछ कर रही मुंबई में रहने वाली एक मुस्‍लिम फैमिली. देश में लागू लॉकबंदी के चलते मुंबई शहर में भी कई श्रमिक और गरीब लोग भूखें भटक रहे हैं. ऐसे लोगों की भूख मिटाने के लिए मुंबई के एक धनी इब्राहीम मोतीवाला का परिवार परिवार सामने आया है. Also Read - Summer Vacation Begins in Delhi Schools: दिल्ली के स्कूलों में अब इस दिन से गर्मी की छुट्टियां

महाराष्‍ट्र की राजधानी और बॉलीवुड सिटी में रहने वाला इब्राहीम मोतीवाला फैमिली एक बार में करीब 800 लोगों के लिए खाना तैयार करवाती है और जरूरतमंदों को बांट रहे हैं. Also Read - कोविड-19 के खिलाफ लड़ाई में टीकाकरण सबसे बड़ा हथियार: पीएम मोदी

इब्राहीम मोतीवाला कहते हैं कि कई लेबर बिना खाना के यहां भटक रहे हैं इसलिए अगर अल्‍लाह ने हमें इस लायक सक्षम बनाया है तो हमें ऐसे लोगों की मदद करना चाहिए. इब्राहीम मोतीवाला ने बताया कि हम एक बार में लगभग 800 लोगों के लिए खाना तैयार करते हैं. Also Read - अब दिल्ली के किसी भी स्टेशन पर नहीं मिलेंगे प्लेटफॉर्म टिकट, जानिए क्यों लिया गया ये फैसला

बता दें कि शुक्रवार को महाराष्ट्र के सांगली जिले में 12 लोगों के कोरोना वायरस से संक्रमित होने की पुष्टि होने के साथ ही शुक्रवार को राज्य में इस वायरस से अब तक संक्रमित हुए लोगों की संख्या बढ़कर 147 हो गई है. इस ही दिन में आज शुक्रवार को एक दिन में ही राज्य में संक्रमण के 17 नए मामले आए हैं. आज दिन में नागपुर में चार और गोंदिया में एक व्यक्ति के वायरस से संक्रमित होने की पुष्टि हुई है. सांगली जिले में अभी तक कुल 24 लोगों में संक्रमण की पुष्टि हो चुकी है.

सांगली जिले में अभी तक कुल 24 लोगों में संक्रमण की पुष्टि हो चुकी है. सांगली में जितने लोगों में संक्रमण की पुष्टि हुई है, वे सभी एक ही परिवार के संपर्क में आए थे, और इस परिवार के कुछ सदस्य सऊदी अरब से लौटे थे. सांगली के सिविल सर्जन सी.एस. सालुंके ने बताया कि आज जिन लोगों के कोरोना वायरस से संक्रमित होने की पुष्टि हुई है, वे सभी पहले से ही अस्पताल के पृथक वार्ड में हैं.