नई दिल्‍ली: शिवसेना के सांसद और मुख्‍य प्रवक्‍ता संजय राउत मुंबई में बॉलीवुड एक्‍ट्रेस कंगना रनौत का ऑफिस तोड़े जाने के बाद से बैकफुट पर हैं. हर मामले पर बढ़चढ़कर बोलने वाले और तुरंत प्रतिक्रिया देने वाले संजय राउत अब कुछ भी बोलने से बच रहे हैं. चारो ओर हो रही आलोचनाओं से घिरे शिवसेना नेता और पार्टी दोनों ही अब संभावित नुकसान को लेकर आशंकित हैं. Also Read - सोनू सूद को मिला बड़ा सम्मान, संयुक्त राष्ट्र ने अवॉर्ड देकर कहा- आपने जो किया वो...

संजय राउत ने कहा, कंगना रनौत के ऑफिस पर एक्‍शन बीएमसी के द्वारा किया गया है. इसका शिवसेना से कोई संबंध नहीं है. आप इस पर मेयर या बीएमसी कमिश्‍नर से बात करें. Also Read - उद्धव ठाकरे की नकल करना पड़ा महंगा, मुंबई पुलिस ने पकड़ा यू-ट्यूबर साहिल चौधरी

बता दें कि हाल ही में कंगना रनौत ने मुंबई पुलिस की आलोचना की थी और महानगर की तुलना पाकिस्तान के कब्जे वाले कश्मीर (पीओके) से की थी, जिस पर उठे विवाद के बाद उन्हें केंद्र की ओर सुरक्षा प्रदान की गई है. शिवसेना ने उनके बयानों की निंदा की थी.

कंगना बुधवार को हिमाचल प्रदेश में अपने घर से मुंबई लौटी थीं. उनके लौटने से कुछ समय पहले ही शिवसेना के नियंत्रण वाले बृहन्मुंबई महानगरपालिका बीएमसी) ने उनके बांद्रा स्थित बंगले/दफ्तर में ‘अवैध निर्माण कार्यों’ को गिराने की कार्रवाई शुरू की थी. हालांकि, कुछ समय बाद ही बांम्‍बे हाईकोर्ट ने कंगना को राहत देते हुए बीएमसी द्वारा अवैध निर्माण को तोड़ने की प्रक्रिया पर रोक लगा दी थी.

मुंबई पुलिस ने कंगना के खार स्थित आवास के बाहर किसी भी अप्रिय घटना से निपटने के लिए एक पुलिस वाहन तैनात किया गया है, जिसमें अधिकारी मौजूद हैं. इस टीम में महिला कांस्टेबल भी शामिल हैं.”