Local Body Election in Maharashtra: महाराष्ट्र राज्य निर्वाचन आयोग ने पांच जिला परिषद में चुनाव आयोजित कराने का निर्णय लिया है. इसके साथ ही इन जिला परिषद क्षेत्रों के दायरे में आने वाली 33 पंचायत समितियों में खाली पड़ी सीटों पर भी उपचुनाव का आयोजन होगा. इन समितियों की सीटें उच्चतम न्यायालय द्वारा स्थानीय निकाय चुनाव में ओबीसी आरक्षण को रद्द किए जाने के बाद सामान्य श्रेणी में आ गई हैं.Also Read - What is Floor Test: क्या होता है फ्लोर टेस्ट, कब आती है इसकी नौबत? कैसा रहा है महाराष्ट्र का इतिहास

महाराष्ट्र राज्य निर्वाचन आयुक्त यूपीएस मदन ने एक बयान जारी कर बताया कि धुले, नंदुरबार, अकोला, वाशिम और नागपुर जिला परिषद में 19 जुलाई को मतदान होगा. वहीं मतों की गिनती 20 जुलाई को होगी. बयान में बताया गया कि इन पांच जिला परिषद क्षेत्र में आने वाली 33 पंचायत समितियों में खाली पड़ी सीटों पर भी इसी दिन 19 जुलाई को उपचुनाव होंगे. Also Read - मुंबई हादसे में मृतकों की संख्या हुई 19, इमारत को जर्जर बताकर 2016 में काट दिया गया था बिजली-पानी; FIR दर्ज

वहीं पालघर जिला परिषद और यहां पंचायत समितियों में ख़ाली पड़ी सीटों पर उपचुनाव का आयोजन कोविड-19 महामारी की स्थिति में सुधार के बाद किया जाएगा. हाल में, महाराष्ट्र ग्रामीण विकास मंत्री हसन मुशरीफ ने कहा था कि जब तक 70 फ़ीसदी आबादी को कोविड-19 रोधी की टीके खुराक नहीं मिल जाती तब तक स्थानीय चुनाव का आयोजन नहीं होगा. मदन ने बताया कि धुले, नंदुरबार, अकोला, वाशिम, नागपुर और पालघर जिला परिषद तथा इसके तहत आने वाली 44 पंचायत समितियों में जनवरी, 2020 में चुनाव का आयोजन किया गया था. Also Read - मुंबई: कुर्ला में आवासीय इमारत ढही, मृतकों की संख्या बढ़कर 19 हुई, पीएम ने दुख जताया

वहीं उच्चतम न्यायालय ने चार मार्च,2021 को दिए अपने आदेश में कहा था कि स्थानीय निकायों में ओबीसी आरक्षण, कुल आरक्षण की 50 फीसदी की सीमा का उल्लंघन करके नहीं होना चाहिए. मदन ने कहा कि उच्चतम न्यायालय ने इन स्थानीय इकाईयों में ओबीसी सीटों पर सामान्य श्रेणी में चुनाव कराने के निर्देश दिये हैं.