मुंबई: रिपब्लिक टीवी के प्रधान संपादक अर्नब गोस्वामी को उनके आवास से बुधवार सुबह महाराष्ट्र पुलिस ने गिरफ्तार किया. 2 साल पुराने इंटीरियर डिजाइनर और उनकी मां की आत्महत्या मामले में पुलिस ने उन्हें गिरफ्तार किया. इसके बाद पुलिस अर्नब को अलीबाग थाने ले ग है. कुछ देर बाद उन्हें कोर्ट में पेश किया जाएगा. इस बीच अर्नब के वकील का दावा है कि पुलिस ने अर्नब के साथ मारपीट की है. बता दें कि हाल ही में उनके चैनल पर TRP स्कैम का आरोप लगाया गया है. ऐसे में एक अन्य मामले में उनकी गिरफ्तारी के बाद देश में महाराष्ट्र सरकार को काफी आलोचनाओं का सामना करना पड़ रहा है. Also Read - पति पर केस के लिए जिस वकील से मिली, उसी से हुआ प्यार, फिर शुरू हुई लव, सेक्स और धोखे की कहानी

इस पूरे प्रकरण पर रिपब्लिक चैनल का दावा है कि अर्नब को उस केस में गिरफ्तार किया गया है जिस केस को 2 साल पहले ही बैन किया जा चुका है. रिपब्लिक चैनल में भी दावा किया है कि थाने ले जाते समय अर्नब को पुलिस ने मारा है. अर्नब के वकील का दावा है कि अर्नब की गिरफ्तारी की जानकारी उनकी पत्नी को नहीं थी. Also Read - कुणाल कामरा के खिलाफ चलेगा सुप्रीम कोर्ट की अवमानना का केस, अर्नब की बेल के बाद किया था ट्वीट

वकील ने आरोप लगाया किया जब अर्नब को पुलिस अधिकारी गिरफ्तार करने गए थे. उस दौरान घर में मौजूद सदस्यों के साथ धक्का-मुक्की की गई. इसके बाद उनलोगों को एक कमरे में 3 घंटे तक के लिए बंद कर दिया गया. परिवार के एक सद्सय के हाथ पर चोट लगने के कारण पट्टी बांधी गई थी. इस पट्टी को भी पुलिस द्वारा हटाने की कोशिश की गई है. Also Read - Video: बेल पर तलोजा जेल से बाहर आए अर्नब गोस्‍वामी, बोले- उच्चतम न्यायालय के आभारी हैं