ASHA Workers Salary increase in Maharashtra: महाराष्ट्र सरकार ने आशा कार्यकर्ताओं के वेतन में वृद्धि की घोषणा की है. महाराष्ट्र के स्वास्थ्य मंत्री राजेश टोपे ने आशा कार्यकर्ताओं के वेतन में 1,000 रुपए की वृद्धि तथा जुलाई से प्रति महीने कोविड-19 भत्ते के रूप में 500 रुपए की राशि देने की घोषणा की. इसके अलावा उन्हें एक स्मार्टफोन भी मिलेगा.Also Read - Maharashtra Rain Update: महाराष्ट्र में भूस्खलन और बाढ़ में मरने वालों की संख्या बढ़कर 149 हुई, बाढ़ प्रभावित क्षेत्रों से निकाले गए 2,30,000 लोग

इस घोषणा के बाद पिछले एक सप्ताह से वेतन वृद्धि समेत कई अन्य मांगों को लेकर प्रदर्शन कर रहीं आशा कार्यकर्ताओं ने अपना प्रदर्शन खत्म कर दिया. इस घोषणा से करीब 68,000 सामुदायिक स्वास्थ्य कार्यकर्ताओं को लाभ मिलेगा. मंत्री ने कहा कि कोविड-19 से जान गंवाने वाली आशा कार्यकर्ताओं के परिजनों को 50 लाख रुपये की राशि मुआवजे के तौर पर दी जाएगी. Also Read - महाराष्ट्र में बारिश का कहर: तालिये गांव के निवासियों ने याद किया भूस्खलन के बाद का खौफनाक मंजर

मान्यता प्राप्त सामाजिक स्वास्थ्य कार्यकर्ता (आशा) अनुबंध पर बहाल कर्मी हैं, जिनकी भर्ती सरकारी योजनाओं, मुख्य तौर पर स्वास्थ्य विभाग की योजनाओं को लागू करवाने की दिशा में काम करने के लिए किया गया है. Also Read - Porn Film Racket Case: राज कुंद्रा की बढ़ी मुश्‍किल, 4 कर्मचारी गवाह बने, एक्‍ट्रेस गहना वशिष्‍ठ पूछताछ के लिए तलब

संवाददाताओं से बातचीत के दौरान टोपे ने कहा, ‘‘महाराष्ट्र की आशा कार्यकर्ताओं को महंगा स्मार्टफोन उनके काम के लिए मिलेगा. इसके साथ ही उनके वेतन में प्रति महीना 1,000 रुपये की वृद्धि हुई है. उन्हें प्रति महीना कोविड-19 भत्ते के तौर पर भी 500 रुपये दिए जाएंगे. इसका मतलब है कि आशा कार्यकर्ताओं को जुलाई से 1,500 रुपये ज्यादा मिलेंगे.’’