नई दिल्ली: पानी के विवाद में 11 मई को महाराष्ट्र के औरंगाबाद में हुए दो समुदायों के झपड़ के मामले में सीएम देवेंद्र फडणवीस ने चौंकाने वाला खुलासा किया है. न्यूज एजेंसी एएनआई के मुताबिक हिंसा के लिए हथियार ऑनलाइन वेबसाइट फिल्पकार्ट से खरीदे गए थे. उन कंपनियों के खिलाफ केस दर्ज कर लिया गया है जहां से ये हथियार खरीदे गए थे. Also Read - Moto E7 Plus India Launch: Moto E7 Plus स्‍मार्टफोन 23 सितंबर को होगा लॉन्‍च, बजट में मिलेंगे धांसू फीचर

गौरतलब है कि मई में महाराष्ट्र के औरंगाबाद में पानी के झगड़े को लेकर दो समुदाय आपस में भिड़ गए थे. हिंसक झड़प के दौरान उपद्रवियों ने करीब 50 से ज्यादा दुकानों और गाड़ियों को आग के हवाले कर दिया था. हिंसा में एक युवक की मौत हो गई थी.

मोतीकारंजा परिसर में प्रशासनिक कार्रवाइ के तहत अनाधिकृत नल पाइप कनेशक्शन तोड़ने से शुरू हुए विवाद में भीड़ ने तलवारें, चाकू, लाठियों से हमला किया था. इसमें दोनों पक्षों ने लोगों के वाहनों और दुकानों में आग लगाई थी.

इस उपद्रव में सहायक पुलिस कमिश्नर गोवर्धन केलेकर, एक पुलिस इंस्पेक्टर समेत 10 पुलिसकर्मी भी घायल हुए थे. उपद्रवियों के हमले में 25 लोग घायल हुए थे. पुलिस ने उपद्रवियों को कंट्रोल करने के लिए पहले आंसू गैस का भी इस्तेमाल किया था लेकिन बात नहीं बनने पर ओपन फायरिंग की थी.